रोजगार की मांग को लेकर युवाओं ने कंपनी कार्यालय के बाहर किया धरना-प्रदर्शन

7/24/2021 12:11:16 AM

बिलासपुर (बंशीधर): कीरतपुर-नेरचैक फाेरलेन, रेलवे, एम्स व हाईड्रो इंजीनियरिंग कॉलेज निर्माण में स्थानीय युवाओं को रोजगार दिए जाने की मांग को लेकर युवाओं ने शुक्रवार को कुड्डी में कंपनी गेट के बाहर जोरदार प्रदर्शन किया। जिले के युवा बड़ी संख्या में घागस चौक पर एकत्रित हुए और वहां से कुड्डी तक नारेबाजी करते हुए में रैली निकाली तथा फाेरलेन निर्माता गावर कंपनी के गेट पर धरना-प्रदर्शन शुरू कर दिया। बीच में उन्हें कंपनी की ओर से वार्ता का निमंत्रण भी मिला लेकिन कोई नतीजा नहीं निकल पाया, जिसके बाद युवा दोबारा कंपनी गेट के बाहर धरने पर बैठ गए।

धरने को संबोधित करते हुए पूर्व जिप सदस्य बसंत राम संधू, इंटक के प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष अधिवक्ता भगत सिंह वर्मा व आशीष ठाकुर सहित सभी वक्ताओं ने कहा कि बिलासपुर जिला में फाेरलेन, एम्स तथा रेलवे जैसे बड़े प्रोजैक्टों में रोजगार के नाम पर स्थानीय लोगों को नजरअंदाज किया जा रहा है। स्थानीय लोगों को दरकिनार करके बाहरी लोगों को रोजगार दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि गाडिय़ां व मशीनरी भी बाहरी लोगों की लगाई जा रही है। इसके चलते बिलासपुर के युवाओं को रोजगार के लिए बद्दी, नालागढ़, चंडीगढ़, दिल्ली व गुरुग्राम पलायन करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि स्थानीय लोग केवल धूल व ध्वनि प्रदूषण की मार सहने और अन्य समस्याएं झेलने के लिए नहीं हैं। उन्हें उनका हक मिलना चाहिए।

धरना-प्रदर्शन के दौरान गावर कंपनी से मिले निमंत्रण के आधार पर आशीष ठाकुर के साथ ही पूर्व जिप सदस्य बसंतराम संधू व इंटक के प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष अधिवक्ता भगत सिंह वर्मा समेत कुछ अन्य लोग वार्ता के लिए भीतर गए थे लेकिन बातचीत बेनतीजा रहने की वजह से वे बाहर आकर दोबारा धरने पर बैठ गए। शाम करीब साढ़े 4 बजे एसडीएम बिलासपुर की ओर से उन्हें 26 जुलाई को वार्ता का न्यौता मिला तब कहीं जाकर युवा वहां से उठे। युवाओं द्वारा पूर्व में दिए गए अल्टीमेटम के आधार पर वहां काफी संख्या में पुलिस बल भी तैनात किया गया था।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Recommended News

static