टल सकता है शीतकालीन सत्र, आज बैठक में होगा फैसला

11/27/2020 12:27:28 PM

शिमला : हिमाचल प्रदेश विधानसभा का शीतकालीन सत्र आगे टल सकता है। धर्मशाला में होने वाले सत्र को स्थगित करने के बारे में सर्वदलीय बैठक में शुक्रवार को फैसला होगा। राज्य में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के चलते यह आपात बैठक बुलाई गई है। विधानसभा परिसर में होने जा रही इस बैठक में सरकार की ओर से संसदीय कार्य मंत्री शामिल होंगे, जबकि कांग्रेस विधायक दल की ओर से नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री इस बैठक में अपना पक्ष रखेंगे। 

माकपा के अकेले विधायक राकेश सिंघा और निर्दलीय विधायक होशियार सिंह भी इसमें शामिल होंगे। इस बारे में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर संकेत दे चुके हैं कि इस सत्र को मामले बढ़ते देख आगे टाला जा सकता है। इस संबंध में सभी दलों से पूछने के बाद ही फैसला होगा। तपोवन में यह सत्र सात दिसंबर से रखा गया है। कुछ विधायक ही कोरोना कहर के बीच इस सत्र को रखे जाने का विरोध कर रहे हैं और इसे मार्च तक टालने की बात कर रहे हैं तो कुछ विधायक इसे धर्मशाला के बजाय शिमला में रखने के पक्ष में है। राय आज बनेगी, जिसके बाद ही इस पर निर्णय होगा। 

कोरोना काल में इस सत्र को आयोजित करने के औचित्य पर लोग सवाल खड़े कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर भी लोग इस बारे में तरह-तरह की बातें कर रहे हैं। वैसे भी धर्मशाला के इस सत्र के दौरान फिजूलखर्ची के सवाल कई बार उठते रहे हैं। इस सत्र का एक लाभ यह होता था कि कांगड़ा और निकटवर्ती जिलों के लोग यहां मुख्यमंत्री और मंत्रियों से मिल पाते थे। अपनी समस्याएं बताते थे। लेकिन, कोरोना के चलते यह अब वैसे भी संभव नहीं है। 
 


prashant sharma

Recommended News