7000 रुपए का चालान काटने पर सुर्खियों में आई शिमला पुलिस, युवक ने सीएम हैल्पलाइन पर की शिकायत

punjabkesari.in Sunday, May 22, 2022 - 06:23 PM (IST)

युवक ने सीएम हैल्पलाइन व डीएसपी ट्रैफिक के पास दर्ज करवाई शिकायत
शिमला (राजेश):
राजधानी शिमला में पुलिस द्वारा एक युवक को बेवजह परेशान करने का मामला सामने आया है। युवक ने पुलिस द्वारा बेवजह परेशान किए जाने की शिकायत मुख्यमंत्री हैल्पलाइन 1100 सहित डीएसपी ट्रैफिक के पास दर्ज करवाई है। मुख्यमंत्री हैल्पलाइन व डीएसपी को लिखित में दी गई शिकायत के अनुसार करुण नागर ने कहा है कि वह लक्कड़ बाजार के साथ लगते बड़श में रहता है। वह बीती शाम को बड़श के पास अपने बुलेट के साथ खड़ा था, इसी समय शिमला पुलिस का हैड कांस्टेबल वहां आया और उसने बेवजह ही ड्राइविंग लाइसैंस न होने का चालान काट दिया जबकि लाइसैंस दिखा दिया गया था।

कार्रवाई नहीं की गई तो जाऊंगा कोर्ट
शिकायत में युवक ने बताया कि जो चालान काटा गया है, इसमें सबसे बड़ा सैक्शन ड्राइविंग व्हीकल विदाऊट लाइसैंस लगाया है, जिसमें जुर्माना 5000 रुपए है और कुल चालान 7000 रुपए का किया गया है।शिकायतकर्ता ने कहा कि मैं अपने बुलेट के पास खड़ा था, इसी बीच पुलिस का हैड कांस्टेबल आया और बुलेट की चाबी निकाल ली। मैंने बस इतना पूछा कि मेरा क्या कसूर है, उसके बाद मेरा बेवजह चालान काट दिया। युवक ने कहा कि इसकी शिकायत सीएम हैल्पलाइन और डीएसपी अजय भारद्वाज को की है। अगर इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की गई तो मैं कोर्ट जाऊंगा।

ये लगाए पुलिस कांस्टेबल ने सैक्शन
पुलिस द्वारा युवक पर आईपीसी की धारा 179 लगाई गई है, जिसमें चालान 1000 रुपए का है। इसके अतिरिक्त दूसरा सैक्शन आईपीसी की धारा 181 लगाई है, जिसमें चालान की राशि 5000 रुपए है। इसके अलावा आईपीसी की धारा 194 लगाई है, जिसमें भी 1000 रुपए का चालान है। युवक ने कहा कि बुलेट के साथ खड़े होने पर ही पुलिस ने 3 धाराएं लगा दी हैं, जिसका कुल चालान 7000 रुपए बनता है।

युवक ने बनाई थी पुलिस कर्मी को लाइसैंस दिखाते समय वीडियो
युवक ने लिखित शिकायत पत्र में बताया कि उसने पुलिस कर्मी को लाइसैंस दिखाते हुए वीडियो बना ली थी लेकिन मेरी इस बात पर कोई गौर नहीं करता कि पुलिस को लाइसैंस दिखाया है। साक्ष्य भी मुख्यमंत्री हैल्पलाइन में भेजे हैं। युवक ने पुलिस अधिकारियों से मांग की है कि मेरे झूठे चालान वापस लिए जाएं और पुलिस कर्मी पर बिना मतलब के परेशान करने पर कार्रवाई की जाए ताकि भविष्य में किसी भी आम नागरिक से अन्य कोई पुलिस कर्मी इस तरह का व्यवहार न कर सके।

क्या कहते हैं डीएसपी ट्रैफिक
उधर, इस मामले में डीएसपी ट्रैफिक अजय भारद्वाज का कहना है कि पूरे मामले की जांच की जाएगी। युवक ने मुझसे शिकायत की है। आखिर पूरा मामला क्या है, इस बारे में हैड कांस्टेबल से भी पूछा जाएगा। अगर किसी तरह की गड़बड़ी पाई गई तो कार्रवाई हो सकती है।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Related News

Recommended News