हिमाचल को मिला दूसरा विश्वविद्यालय, सीएम जयराम ठाकुर ने किया शुभारंभ

punjabkesari.in Tuesday, Jun 28, 2022 - 07:09 PM (IST)

मंडी (रजनीश): मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने मंगलवार को प्रदेश के दूसरे सरदार पटेल विश्वविद्यालय मंडी का शुभारंभ किया। विश्वविद्यालय का शुभारंभ करने के साथ-साथ मुख्यमंत्री ने 16.18 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित हिमाचल प्रदेश के दूसरे विश्वविद्यालय के 2 खंडों का लोकार्पण और सरदार पटेल विश्वविद्यालय मंडी की लोकार्पण प्लेट व लोगो का भी अनावरण किया। सरदार पटेल विश्वविद्यालय मंडी के अधीन प्रदेश के कुल्लू, मंडी, लाहौल-स्पीति, चम्बा और कांगड़ा जिले के 141 सरकारी और निजी कालेज शामिल किए गए हैं। देव सदन मंडी के सभागार में आयोजित उद्घाटन समारोह में मुख्यमंत्री ने कहा कि 52 वर्षों के पश्चात राज्य में दूसरा सरकारी विश्वविद्यालय अस्तित्व में आया है, इससे पहले 22 जुलाई, 1970 को प्रदेश का पहला विश्वविद्यालय शिमला में स्थापित किया गया था। मुख्यमंत्री ने विश्वविद्यालय के शिक्षकों और विद्यार्थियों को इस संस्थान के उज्ज्वल भविष्य के लिए पूर्ण समर्पण और मिशन मोड पर कार्य करने का आग्रह किया।

मंडी में स्थापित होगी सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा
इस दौरान मुख्यमंत्री ने मंडी में सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा स्थापित करने की भी घोषणा की। मुख्यमंत्री ने विश्वविद्यालय परिसर में जारी विभिन्न निर्माण कार्यों का निरीक्षण करने के दौरान निष्पादन एजैंसियों के अधिकारियों को इस महत्वाकांक्षी परियोजना का समयबद्ध और गुणवत्तापूर्ण निर्माण सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने वल्लभ डिग्री कालेज मंडी के 1987 बैच के अपने सहपाठियों को भी सम्मानित किया। शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने कहा कि चालू वित्त वर्ष के दौरान इस महत्वपूर्ण क्षेत्र के लिए 8,412 करोड़ रुपए के बजट का प्रावधान किया गया है तथा सरदार पटेल विश्वविद्यालय राज्य के छात्रों के लिए एक मील पत्थर साबित होगा। इस मौके पर जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर, शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर, विधायक राकेश जम्वाल, कर्नल इंद्र सिंह, अनिल शर्मा, विनोद कुमार, हीरा लाल, जवाहर ठाकुर, इंद्र सिंह गांधी और प्रकाश राणा, प्रधान सचिव शिक्षा डाॅ. रजनीश, सरदार पटेल विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. डीडी शर्मा, विश्वविद्यालय की प्रति-कुलपति प्रो. अनुपमा सिंह, डीसी अरिंदम चौधरी, एसपी शालिनी अग्निहोत्री और अन्य गण्यमान्य लोग भी उपस्थित थे।  

5 जिलों के विद्यार्थियों को नहीं जाना पड़ेगा शिमला 
मुख्यमंत्री ने कहा कि मंडी में नए विश्वविद्यालय की स्थापना से अब महाविद्यालय तथा विश्वविद्यालय से संबंधित कार्यों के लिए 5 जिलों के विद्यार्थियों को शिमला नहीं जाना पड़ेगा। राज्य में 2 विश्वविद्यालय होने से स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों की सीटों में भी वृद्धि होगी और विद्याॢथयों को उच्च शिक्षा ग्रहण करने के लिए आसानी से प्रवेश मिल सकेगा। उन्होंने कहा कि वल्लभ कालेज परिसर के निर्माण पर 27 करोड़ रुपए व्यय किए गए हैं और इस वर्ष सितम्बर माह तक इसका निर्माण कार्य पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि सरदार पटेल विश्वविद्यालय मंडी परिसर के लिए कुछ स्थानों पर जगह का चयन किया गया है लेकिन द्रंग विधानसभा क्षेत्र के बासाधार में अधिक जमीन उपलब्ध होने के कारण विश्वविद्यालय का परिसर वहां पर बनाने पर विचार किया जा रहा है। अभी वल्लभ काॅलेज परिसर में स्थित क्लस्टर यूनिवर्सिटी के भवन सरदार पटेल विश्वविद्यालय का संचालन होगा।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Related News

Recommended News