5 लाख की घूसखोरी मामले में CBI की कुल्लू में दबिश, निजी कंपनी के दस्तावेज कब्जे में लिए

punjabkesari.in Wednesday, Jul 14, 2021 - 09:15 PM (IST)

शिमला (ब्यूरो): सीबीआई ने नैशनल हाईड्रो पावर कार्पोरेशन (एनएचपीसी) के मुख्य महाप्रबंधक वित्त और 2 अन्य व्यक्तियों को 5 लाख की घूसखोरी के मामले में गिरफ्तार किया है। हालांकि आरोपित अधिकारी हरियाणा के फरीदाबाद में कार्यरत हैं लेकिन इस केस का कनैक्शन हिमाचल से भी है। मामले की जांच के तहत सीबीआई ने हिमाचल के कुल्लू में भी दबिश दी है। जांच के दायरे में पार्वती पावर प्रोजैक्ट चरण-2 में एनएचपीसी की ज्वाइंट वेेंचर कंपनी भी है। जानकारी के अनुसार सीबीआई ने कंपनी के दफ्तर में दबिश देकर कुछ दस्तावेज कब्जे में लिए हैं।

सूचना के अनुसार उक्त निजी कंपनी के करीब 1.36 करोड़ रुपए एवं करीब 1.9 करोड़ रुपए के 2 दावे और करीब 2 करोड़ रुपए के कुछ अतिरिक्त बिल लंबित थे, ऐसे में निजी कंपनी (संयुक्त उद्यम) के वरिष्ठ महाप्रबंधक (प्रोजैक्ट) ने सीजीएम (वित्त) एनएचपीसी से उक्त भुगतान को शीघ्र करने का निवेदन किया, जिसके लिए सीजीएम (वित्त) एनएचपीसी ने कथित रूप से रिश्वत की मांग की।

इसी कड़ी में सीबीआई ने जाल बिछाया और नैशनल हाईड्रोइलैक्ट्रिक पावर कार्पोरेशन (एनएचपीसी) के मुख्य महाप्रबंधक (वित्त) को 5 लाख की रिश्वत लेने के दौरान पकड़ा। निजी कंपनी (संयुक्त उद्यम) के वरिष्ठ महाप्रबंधक (रिश्वत देने वाला व्यक्ति) तथा रिश्वत ले जाने वाले व्यक्ति को भी पकड़ा गया है। सीबीआई ने फरीदाबाद (हरियाणा), कुल्लू (हिमाचल प्रदेश) तथा दिल्ली में छानबीन के दौरान सम्पत्ति और वित्तीय लेन-देन के दस्तावेज सहित आपत्तिजनक दस्तावेज बरामद किए हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Related News

Recommended News