आबकारी विभाग का शिकंजा : पालमपुर में शराब की 9000 पेटियां बरामद, हमीरपुर में होटल का बार लाइसैंस रद्द

punjabkesari.in Tuesday, Jan 25, 2022 - 11:51 PM (IST)

शिमला (ब्यूरो): राज्य व आबकारी विभाग द्वारा अवैध रूप से शराब बेचने वालों के विरुद्ध कार्रवाई की गई है। विभाग के अधिकारियों द्वारा अलग-अलग टीमें गठित करके शराब की खुदरा बिक्री दुकानों व थोक बिक्री के गोदामों का गहन निरीक्षण किया जा रहा है। यह कार्रवाई राज्य के सभी जिलों में जारी है। बीते सोमवार को विभाग द्वारा मंडी के जोगिंद्रनगर स्थित गलू में बॉटलिंग प्लांट का लाइसैंस निलंबित किया गया है, जिसका निरीक्षण विभागीय अधिकारियों द्वारा 18 जनवरी को किया था और इसमें दोषी अधिकारी के विरुद्ध भी कार्रवाई की गई है। विभाग के आयुक्त राज्य कर एवं आबकारी यूनुस ने बताया कि बॉटलिंग प्लांट गलू में मिली सूचना की कड़ियों को जोड़ते हुए संयुक्त आयुक्त, राज्य कर एवं आबकारी मुख्यालय शिमला की अध्यक्षता में टीम गठित करके 24 व 25 जनवरी को जिला कांगड़ा तहसील पालमपुर के राजपुर टांडा में अंग्रेजी शराब के थोक विक्रेता एल-1 गोदाम का निरीक्षण किया गया, जिसमें पाया गया कि लाइसैंसी द्वारा लाइसैंस में वर्णित शर्तों के अनुरूप रिकॉर्ड नहीं बनाया जा रहा था। अंग्रेजी शराब के स्टॉक में अंतर पाया गया है। विभाग द्वारा इस संबंध में लाइसैंसी के विरुद्ध कार्रवाई की जा रही है।

राजपुर टांडा में थोक गोदाम एल-13 से 7000 पेटियां बरामद

इसके अतिरिक्त राजपुर टांडा में ही देसी शराब के थोक गोदाम एल-13 का भी निरीक्षण किया गया, जिसमें लगभग 7000 पेटियां अधिक पाई गईं। ये पेटियां जोगिंद्रनगर स्थित बॉटलिंग प्लांट में निर्मित हुई थीं। उक्त लाइसैंसी के विरुद्ध अधिकारियों द्वारा नियमानुसार कार्रवाई की जा रही है। इस गोदाम को भी विभाग द्वारा सील कर दिया गया है। टीम द्वारा गुप्त सूचना के आधार पर राजपुर टांडा में ही एक देसी शराब का अवैध गोदाम पकड़ा है, जिसमें 1,656 पेटी प्योर संतरा पाई गईं जो कि जोगिंद्रनगर स्थित बॉटलिंग प्लांट में निर्मित हैं। विभाग द्वारा इस संबंध में आबकारी अधिनियम की धारा-39 के अंतर्गत मुकद्दमा बना कर पुलिस थाना में एफआईआर दर्ज की गई है। इन 2 केसों में बिना एक्साइज ड्यूटी के भुगतान की देसी शराब पकड़ी गई है। 

बार में 2016 बोतलें अलग-अलग ब्रांड की बरामद

इसके अतिरिक्त 21 जनवरी को हमीरपुर पुलिस द्वारा हमीरपुर के जिस होटल के कमरे से अवैध शराब वीआरवी फूल्स की 8 पेटियों को पकड़ा था, उसी होटल का मंगलवार को जिला हमीरपुर के विभागीय अधिकारियों द्वारा निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान पाया गया कि लाइसैंसी द्वारा लाइसैंस में वर्णित शर्तों के अनुसार कार्य नहीं किया जा रहा है। बार में विभिन्न ब्रांड की अंग्रेजी शराब की 16 बोतलें जोकि नॉट फॉर सेल इन हिमाचल मिली हैं। इसके अतिरिक्त 2000 बोतलें अलग-अलग ब्रांड की भी मिली हैं। विभाग द्वारा बार को सील कर दिया गया है और बार का लाइसैंस को भी निलंबित कर दिया गया है।

खुदरा शराब की दुकानों का भी किया जा रहा निरीक्षण

टीम द्वारा जिला कांगड़ा की पालमपुर तहसील की खुदरा शराब की दुकानों का भी गहन निरीक्षण किया जा रहा है। विभाग द्वारा की जा रही इस कार्रवाई से अवैध शराब के कारोबारियों में हड़कंप मचा हुआ है और उनके विरुद्ध पूरी सख्ती से कार्रवाई की जा रही है। इस दौरान जो भी दोषी पाया जाएगा चाहे वह अवैध शराब का विक्रेता हो, अधिकृत लाइसैंसी हो या किसी भी विभागीय अधिकारी की संलिप्तता हो, किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा। सभी के विरुद्ध विभाग द्वारा नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Related News

Recommended News