CM जयराम से मिले हिमाचल व्यापार मंडल के प्रतिनिधि, GST सीमा बढ़ाने की उठाई मांग

CM जयराम से मिले हिमाचल व्यापार मंडल के प्रतिनिधि, GST सीमा बढ़ाने की उठाई मांग

धर्मशाला: हिमाचल प्रदेश व्यापार मंडल का प्रतिनिधिमंडल प्रदेशाध्यक्ष सुमेश शर्मा के नेतृत्व में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से मिलकर हिमाचल में जी.एस.टी. की सीमा 20 लाख रुपए करवाए जाने की मांग की है। इस दौरान व्यापार मंडल ने सी.एम. को भगवान शिव परिवार की प्रतिमा से सम्मानित किया। व्यापार मंडल के प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि व्यापार मंडल जनकल्याण के कार्यों में सरकार को हरसंभव सहयोग करेगा। इस दौरान हिमाचल व्यापार मंडल ने सी.एम. को 2 ज्ञापन पत्र भी सौंपे। 

कंपोजिट योजना की सीमा हो डेढ़ करोड़ रुपए
व्यापार मंडल के प्रतिनिधिमंडल ने सी.एस. को बताया कि जी.एस.टी. में हिमाचल के व्यापारियों को 10 लाख की सीमा तय की गई है जबकि अन्य राज्यों में इसे 20 लाख किया गया है। इसी तरह जी.एस.टी. के तहत कंपोजिट योजना में भी हिमाचल की सीमा को 50 लाख रुपए तय किया गया है जबिक राज्य में यह सीमा डेढ़ करोड़ रुपए तय की गई है, ऐसे में प्रदेश सरकार हिमाचल के व्यापारियों की आवाज केन्द्र सरकार के समक्ष उठाए और जी.एस.टी. की सीमा 20 लाख व कंपोजिट योजना की सीमा को अन्य राज्यों के समान लागू करवाया जाए। 

राज्य स्तरीय महाव्यापार सम्मेलन के लिए दिया निमंत्रण 
व्यापार मंडल ने बाहरी राज्यों से आने वाले फेरी व सेल लगाकर सामान बेचने वालों पर भी उचित कार्रवाई करने की मांग उठाई। इस दौरान व्यापार मंडल ने सी.एम. को राज्य स्तरीय महाव्यापार सम्मेलन के लिए निमंत्रण दिया। यह महासम्मेलन मुख्यमंत्री से समय मिलने के बाद ऊना, बद्दी, बिलासपुर व हमीरपुर सहित अन्य स्थान पर तय किया जाएगा। इस प्रतिनिधिमंडल में व्यापार मंडल के प्रदेश प्रतिनिधियों में राकेश कैलाश, रविन्द्र अरोड़ा, इकबाल सिंह ऊना, राजकुमार गुप्ता, सरजीवन महाजन, विपिन, अमरनाथ, राजेश खन्ना हमीरपुर, ओमकार शर्मा जोगिन्द्रनगर, मूलखराज मेहता बैजनाथ, माहिपल प्रकाश, नवीन बिलासपुर, विपिन डढवाल, सुरेन्द्र कैलाश, जगदेश, राकेश, कपिला, कैप्टन मुन्ना, संजीव सोनी, सतीश, कपिल व पुरोहित सहित अन्य व्यापारी मौजूद थे। 



आप को जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन