पुलिस कंट्रोल रूम के सामने रैस्टोरैंट में युवक की हत्या, वारदात कर भाग गया आरोपी

punjabkesari.in Monday, Feb 26, 2024 - 10:54 PM (IST)

शिमला (संतोष): हिमाचल की राजधानी शिमला में सनसनीखेज वारदात हुई है। पुलिस कंट्रोल रूम के सामने रैस्टोरैंट में एक युवक की हत्या की वारदात हुई। हत्या के बाद शहर में हड़कंप मच गया है। पुलिस जांच में जुटी है। राजधानी शिमला में बदमाशों के हौसले बुलंद हैं और बेखौफ होकर घूम रहे हैं। मालरोड पर कंट्रोल रूम के सामने एक युवक की हत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया है। घटना रविवार-सोमवार देर रात 2 बजे की है। एक युवक लहूलुहान हालत में मदद के लिए पुलिस नियंत्रण कक्ष पहुंचा, जिसे पुलिस अधिकारी उपचार के लिए अस्पताल ले गए, लेकिन सोमवार तड़के उपचार के दौरान युवक ने दम तोड़ दिया। इसकी पहचान 21 वर्षीय मनीष उपमंडल चौपाल जिला शिमला निवासी के तौर पर हुई है। प्रारंभिक जांच के मुताबिक मनीष मालरोड के एक रैस्टोरैंट में काम करता था। पुलिस ने हथियार कब्जे में लिया है। आरोपी अभी फरार है। पुलिस के मुताबिक घटना मालरोड क्षेत्र की है। घटनास्थल रिपोर्टिंग रूम के एकदम सामने है। एस.एच.ओ. सदर थाना धर्म सेन नेगी ने बताया कि पुलिस ने सी.सी.टी.वी. खंगाला तो पाया कि हत्यारोपी मास्क पहन कर आया था, जिसकी बड़ी मुश्किल से पहचान की गई। रात्रि 2.50 बजे उसने अपने साथी सचिन को भी फोन किया, जिस पर पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया है। पुलिस टीमें हत्यारोपी को पकड़ने के लिए रवाना हो चुकी हैं और जल्द ही हत्यारोपी पुलिस की गिरफ्त में होगा।

सहायता कक्ष का शीशा तोड़ा तो बाहर निकले पुलिस कर्मचारी
मनीष रैस्टोरैंट में काम करता था। रात करीब 2 बजे रैस्टोरैंट में घुसकर किसी अज्ञात व्यक्ति ने उस पर जानलेवा हमला कर दिया, जिससे मनीष बुरी तरह से घायल हो गया और अपनी जान बचाने के लिए दौड़ा-दौड़ा पुलिस सहायता कक्ष की तरफ आया। जिस हथियार से उसके ऊपर प्रहार हुआ था, उसको भी अपने हाथ में लाया। इस बीच मनीष ने अपने हाथ में ले रखे हथियार से पुलिस सहायता कक्ष के ऑफिसर रूम के दरवाजे का शीशा तोड़ा। पुलिस सहायता कक्ष के कर्मचारियों ने तुरंत बाहर निकल कर देखा तो यह घायल व्यक्ति (मनीष) पुलिस सहायता कक्ष के सामने सड़क पर खड़ा था। जो देखते ही देखते सड़क पर गिर पड़ा, जिसको पुलिस ने तुरंत कंबल डालकर उठाया। उसे पुलिस सहायता कक्ष की गाड़ी में आई.जी.एम.सी. पहुंचाया गया, लेकिन अत्यधिक खून बहने से तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। रेस्तरां के मालिक हिमांशु सूद ने पुलिस को घटना की जानकारी दी, वहीं परिजनों को भी फोन पर सूचित किया

हरियाणा का है आरोपी, अभी पुलिस के हाथ खाली
पुलिस के अनुसार हत्यारोपी की पहचान सतेंद्र पाल सिंह निवासी रानियां (जिला सिरसा) हरियाणा के रूप में हुई है, जो वारदात को अंजाम देने के बाद पहले विकासनगर गया और रात्रि में ही उसने वहां से कैब बुक की और चंडीगढ़ को फरार हो गया। सी.सी.टी.वी. में घटना कैद हुई तो पुलिस ने तुरंत ही उसकी शिनाख्त की और पुलिस टीमों को उसे गिरफ्तार करने के लिए रवाना किया। शाम तक पुलिस के हाथ खाली रहे, लेकिन पुलिस हत्यारोपी की तलाश में जुटी हुई है।

शिमला में ही काम करता था हत्यारोपी
पुलिस का कहना है कि हत्यारोपी दिसम्बर, 2023 से यहीं शिमला में काम करता था और वह यहां जीरो डिग्री में चोरी करने आया था और इसी बीच मनीष ने उसे देख लिया और उसे रोकने के प्रयास के बीच उसने मनीष पर हमला कर दिया है। पुलिस की यह थ्यौरी कितनी सही है, इसकी जांच की जा रही है। यह भी देखा जा रहा है कि इनके बीच आपसी कोई पुरानी रंजिश तो नहीं थी या फिर अन्य कोई कारण तो नहीं है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Kuldeep

Recommended News

Related News