पंडोगा में जाली रसीद व मोहर पर सवारियां ढोते पकड़ी निजी बस, मालिक के खिलाफ मामला दर्ज

4/23/2021 10:44:03 PM

हरोली (संजीव दत्ता): जाली रसीद व मोहर लगाकर सवारियां ढोने वाले निजी बस ऑप्रेटर द्वारा सरकार के राजस्व को चूना लगाने का मामला सामने आया है। मामला सामने आते ही आबकारी विभाग की टीम ने तत्काल पुलिस को बुलाते हुए कार्रवाई शुरू कर दी है। जानकारी के अनुसार शुक्रवार सुबह पंजाब के जिला होशियारपुर से निजी बस चालक ने ऊना की सीमा के गांव पोलियां में प्रवेश किया। बस चिंतपूर्णी के लिए सवारियां लेकर जा रही थी। हरोली से होते हुए वह बस चालक चिंतपूर्णी मार्ग पर जाने की बजाय गलती से होशियारपुर मार्ग की ओर चल दिया।

पंडोगा गांव से निकलने के बाद उसे गलत रास्ते का पता चला तो वह वापस पंडोगा बैरियर से निकलने लगा तभी मौके पर तैनात कर व आबकारी विभाग के निरीक्षक विशाल थापा की अगुवाई में टीम ने बस को रोककर चालक को जरूरी दस्तावेज दिखाने के लिए कहा तो बस चालक ने कागजात दिखाए। उसमें रसीद गगरेट व मोहर पंडोगा बैरियर की लगाई गई थी। इस पर जब निरीक्षक को उन कागजात पर शक हुआ तो उन्होंने जांच-पड़ताल शुरू कर दी। जांच में पाया गया कि बस चालक ने जो रसीद उन्हें दिखाई है उस सीरियल नम्बर की रसीद उनके पंडोगा बैरियर से अन्य वाहन के लिए 29 मार्च को ही 150 रुपए की काटी जा चुकी है। उस पर गगरेट लिखा हुआ है और मोहर पंडोगा बैरियर की लगाई गई है जोकि सरासर जाली साबित होती है।

अधिकारी ने इसकी सूचना तत्काल अपने उच्चाधिकारियों को दी, वहीं पुलिस को भी सूचित किया गया। सूचना मिलते ही राज्य कर व आबकारी ऊना के उपायुक्त कंवर शाहदेव कटोच, सहायक आयुक्त संजय शर्मा व निरीक्षक प्रदीप ठाकुर की टीम पंडोगा बैरियर पर पहुंच गई, वहीं डीएसपी अनिल कुमार मेहता के नेतृत्व में पंडोगा पुलिस चौकी प्रभारी रविंद्र कुमार टीम सहित मौके पर पहुंच गए। डीएसपी ने बस चालक से पूछताछ शुरू की जिसमें पाया गया कि बस चालक ने आबकारी अधिकारी को जो रसीद व दस्तावेज दिखाए हैं वे जाली हैं।

इस पर पुलिस ने कर व आबकारी विभाग के निरीक्षक की लिखित शिकायत के आधार पर बस को कब्जे में लेते हुए चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है, वहीं दूसरी ओर बस मालिक के खिलाफ भी विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। डीएसपी हरोली अनिल कुमार मेहता ने बताया कि शुक्रवार सुबह पंडोगा आबकारी विभाग की चैक पोस्ट पर निजी कंपनी की बस को पकड़ा है जिसके चालक ने उन्हें पैसेंजर टैक्स के रूप में काटी हुई जो रसीद दिखाई है वह जाली पाई गई है। इस संदर्भ में आबकारी विभाग की लिखित शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर बस को कब्जे में लेते हुए आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है।

राज्य कर व आबकारी उपायुक्त  कंवर शाहदेव कटोच ने बताया कि शुक्रवार को निजी कंपनी की बस ने पंजाब से जिला के गांव पोलियां की सीमा में प्रवेश किया था। वहां पर विभाग की टीम तैनात नहीं थी। वहां से प्रवेश करने के बाद बस चालक गलती से पंडोगा बैरियर की ओर चला गया क्योंकि उसने चिंतपूर्णी के लिए जाना था। पंडोगा बैरियर पर तैनात निरीक्षक ने जब उसे जरूरी कागजात दिखाने को कहा तो उसने जो कागजात दिखाए वो जाली पाए गए। बस चालक ने जो रसीद दिखाई थी, उस सीरियल नम्बर की रसीद पंडोगा बैरियर पर पहले से ही काटी जा चुकी थी। उस पर स्थान के नाम पर गगरेट व मोहर पंडोगा बैरियर की लगाई हुई थी जोकि जाली पाई गई। इस मामले में पुलिस को सूचित करते हुए आगामी कार्रवाई के लिए लिखा गया है।

जांच में हो सकते हैं अन्य खुलासे

पंडोगा बैरियर पर पैसेंजर टैक्स के जाली दस्तावेज सहित पकड़ी गई बस के बाद जांच में अन्य खुलासे भी होने की संभावना है। अब जिस निजी कंपनी की बस पकड़ी गई है क्या वह हिमाचल आने पर ऐसे ही दस्तावेजों का सहारा लेते हैं और क्या अन्य बस आप्रेटर्स भी ऐसे कार्य में कहीं शामिल तो नहीं हैं, यह बात आगामी जांच के बाद ही सामने आएगी। बहरहाल, पुलिस के शिकंजे में एक बस तो आ चुकी है, बाकी जांच के बाद ही हकीकत सामने आएगी।


Content Writer

Vijay

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static