परवाणु में डेंगू के मरीजों की संख्या बढ़ी, 106 मामले आए सामने

punjabkesari.in Thursday, Jun 30, 2022 - 07:35 PM (IST)

परवाणु (विकास): मौसम के करवट लेने के साथ ही औद्योगिक क्षेत्र परवाणु में डेंगू, मलेरिया और वायरल के मरीजों की संख्या भी हर रोज बढ़ती जा रही है। आलम यह है कि परवाणु में डेंगू के मरीजों का आंकड़ा 100 पार कर चुका है जबकि अभी बरसात का मौसम शुरू ही हुआ है। परवाणु में पिछले कुछ दिनों में डेंगू के अब तक 106 मामले सामने आए हैं जोकि टकसाल, परवाणु सहित आसपास ग्रामीण क्षेत्र के अलावा कालका के भी हैं। इनमें सैक्टर 1 के 2, सैक्टर 2 के 3, सैक्टर 4 के 9 और टकसाल के 36 जबकि मसूलखाना व खड़ीन के 5 मामले शामिल हैं। इसके अलावा हरियाणा के कालका व आसपास के इलाकों से भी लोग ईएसआई अस्पताल परवाणु में अपना इलाज करवाने पहुंच रहे हैं। अभी तक हरियाणा के कालका व आसपास के क्षेत्रों से डेंगू से पीड़ित लोगों के 50 केस आ चुके हैं।
PunjabKesari

नगर परिषद करवा रही फॉगिंग 
बता दें कि परवाणु में डेंगू के बढ़ते मामलों को देखकर नगर परिषद द्वारा पूरे परवाणु व आसपास के क्षेत्रों और साथ लगती पंचायतों में फॉगिंग करवाई जा रही है। हालांकि पिछले 2 दिनों से हुई बरसात ने नगर परिषद के कार्यों की पोल खोल दी है। बंद पड़ी नालियों की वजह से पानी सड़कों पर बह रहा है और सड़कों पर पड़े गड्ढों में जमा होकर मच्छरों के पनपने का कारण बन रहा है।

रैपिड किट से हो रही मरीजों की जांच
स्वास्थ्य विभाग की मानें तो परवाणु ईएसआई अस्पताल में रैपिड किट से मरीजों की जांच की जा रही है। इसके अलावा स्वास्थ्य विभाग के कर्मियों द्वारा परवाणु व आसपास के एरिया में स्थित झुग्गी-झोंपड़ियों में जाकर घरों के बर्तनों, प्राकृतिक जल स्रोतों व किसी भी जगह इकट्ठे हुए पानी जांच की जा रही है। यह भी जांचा जा रहा है कि घरों व आसपास जमा पानी में कहीं डेंगू के मच्छरों का लारवा तो नहीं है। इसी तरह आशा वर्करों द्वारा भी इन सभी बीमारियों की रोकथाम के बारे में लोगों को जानकारी दी जा रही है और बचाव के उपाय भी बताए जा रहे हैं।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Related News

Recommended News