3 वर्ष बाद टकोली मेले में हुआ देवताओं का मिलन, हारियानों ने डाली नाटी

punjabkesari.in Monday, Jun 20, 2022 - 12:00 AM (IST)

टकोली (ब्यूरो): देवताओं के आगमन के साथ रविवार को ऐतिहासिक टकोली मेला शुरू हो गया, जिसमें स्नोर घाटी के विख्यात गढ़पति बलिंडीगढ़ देवता खबलाशी नारायण ने बतौर मुख्यातिथि भाग लिया। इसके अलावा मेले में देवता लोटी नारायण लोट, देवता जरासंध भमसोई व देवता पंचवीर भी मेले में पधारे जिन्होंने देवता खबलाशी नारायण के पास हाजिरी भरी। मेले के दौरान देवता अपने हारियानों संग नृत्य करते हुए मेला ग्राऊंड टकोली पहुंचे जोकि सबके आकर्षण का केंद्र बना रहा। इसके बाद हारियानों द्वारा वाद्ययंत्रों के साथ नाटी डाली। बता दें कि अंतिम बार 2019 में टकोली मेले में ही सभी देवताओं का देव मिलन हुआ था और उसके बाद कोविड के चलते कोई भी कार्यक्रम आयोजित नहीं किया गया था। 

अगले साल आषाढ़ के 4 प्रविष्टे को होगा मेला
देवता खबलाशी नारायण के भंडारी गुड्डू भंडारी ने कहा कि अगले साल 2023 में आषाढ़ के 4 प्रविष्टे को देवता खबलाशी नारायण के अपने पुराने स्थान टकोली बिहाली में एक दिन का मेला आयोजित किया जाएगा जिसमें प्राचीन परंपरा को महत्व दिया जाएगा। टकोली बिहाली के स्थानीय निवासी जो देवता के हारियान हैं, उनके रिश्तेदार व अन्य भक्त लोग यहां बहुत संख्या में पहुंचते हैं। उन सभी की भावनाओं को देखते हुए यहां एक दिन का सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजन किया जाएगा।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Related News

Recommended News