रेहड़ी में आग लगने से गैस सिलैंडर फटा, 1 लाख का नुक्सान

punjabkesari.in Sunday, May 15, 2022 - 12:14 AM (IST)

सुखबाग (तिलक): चौहार घाटी के बरोट के लक्कड़ बाजार में बीते कई वर्षों से रेहड़ी के माध्यम से बर्गर आदि बनाने का रोजगार करने वाली रीना देवी पत्नी पवन कुमार गांव रूलिंग डाकघर वोचिंग तहसील पद्धर जिला मंडी की रेहड़ी में शनिवार के दिन दोपहर बाद अचानक आग लग गई, जिस कारण उस पर रखा सारा सामान व गैस सिलैंडर भी फट गया। इस घटना में रीना देवी की पासबुक और गले में रखी 8 हजार रुपए की नकदी भी आग की भेंट चढ़ गई। आग से लगभग 1 लाख रुपए के नुक्सान का अनुमान लगाया जा रहा है।

आग लगाने के दौरान स्थानीय व्यापारियों तथा पर्यटकों में अफरा-तफरी मच गई।रेहड़ी के अंदर रखे गैस सिलैंडर के फटने के कारण किसी को आग बुझाने की हिम्मत नहीं हुई। इस रेहड़ी के साथ एक दूसरी रेहड़ी को भी आग ने अपनी चपेट में ले लिया। यह रेहड़ी राजिंद्र कुमार पुत्र वीर सिंह गांव रूलिंग डाकघर बोचिंग तहसील पद्धर जिला मंडी की थी। वहीं रेहड़ी के साथ खड़ी स्कूटी को भी काफी नुक्सान पहुंचा है।

सूचना मिलते ही द्रंग थाना से हैड कांस्टेबल राम चंद्र तथा विजेंद्र सिंह घटनास्थल पर पहुंचे। गौरतलब है कि यह रेहड़ी लक्कड़ बाजार से कुछ ही दूरी पर स्थित थी, अगर नजदीक होती तो लक्कड़ बाजार में लकड़ी के खोखों सहित पक्के मकान भी आग की चपेट में आ जाते। हैड कांस्टेबल राम चंद्र तथा विजेंद्र सिंह ने बताया कि आग से हुए नुक्सान की रिपोर्ट तैयार कर दी गई है और इन प्रभावितों को मुआवजा दिया जाएगा। वहीं बरोट पंचायत के प्रधान डाॅ. रमेश ठाकुर ने प्रशासन से मांग की है कि पीड़ितों को उचित मुआवजा दिया जाए। 

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Related News

Recommended News