DGP संजय कुंडू ने किया अवैध पटाखा उद्योग का निरीक्षण, बोले-मैकेनिकल यूनिट में हुआ था हादसा

punjabkesari.in Saturday, Mar 12, 2022 - 09:28 PM (IST)

टाहलीवाल/ऊना (गौतम/विशाल): औद्योगिक क्षेत्र बाथू के अवैध पटाखा उद्योग में हुए विस्फोट मामले के मद्देनजर डीजीपी संजय कुंडू पर आधारित टीम द्वारा शनिवार को घटनास्थल का निरीक्षण किया गया। इस दौरान एसआईटी टीम की कमान संभाल रही डीआईजी सुमेधा द्विवेदी भी उनके साथ मौजूद रहीं। सुमेधा द्विवेदी द्वारा घटनास्थल पर जब्त की गई अवैध विस्फोटक सामग्री की मात्रा और कैसे इस फैक्टरी में अवैध रूप से पटाखे तैयार किए जा रहे थे, इस बारे अवगत करवाया। बाथू विस्फोट मामले की जांच के लिए उच्च अधिकारियों के नेतृत्व वाली 2 टीमों का गठन किया गया है। डीजीपी संजय कुंडू द्वारा विस्फोट से जुड़ी जानकारी व जब्त हुए विस्फोटक पाऊडर व कैमिकल के ड्रमों की डिटेल आदि चैक की गई। गौरतलब है कि इस हादसे में 12 कामगारों की मौत हो चुकी है और 2 कामगार पीजीआई चंडीगढ़ में उपचाराधीन हैं। 
PunjabKesari, Illegal Firecracker Factory Inspection Image

हादसे को लेकर बताए संक्षिप्त तथ्य

डीजीपी ने पत्रकार वार्ता में पटाखा उद्योग में हुए हादसे को लेकर संक्षिप्त तथ्य बताए। उन्होंने बताया कि श्री गुरु जी कंपनी ने सिंगल विंडो क्लीयरैंस पार्टी पॉपअप यानि फैंक कर चलने वाला पटाखे के लिए लिया था जबकि दूसरा मैकेनिकल यूनिट था और इसी यूनिट में हादसा हुआ। इस यूनिट में माचिस की तरह एक पैकेट वाला पटाखा बनता था, जिसे माचिस की तरह रगड़ कर चलाया जाता था। इस पटाखे को बनाने के लिए एक गोलाकार चीज पर एक तरफ पर प्लास्टर व दूसरी तरफ पर पेंट लगाया जा सकता है। पार्टी पॉपअप वाली यूनिट असली थी जबकि दूसरी हादसे वाले यूनिट को अक्तूबर में शुरू किया गया था। उन्होंने कहा कि इस मामले में आरोपियों के लैपटॉप व मोबाइल भी कब्जे में लिए हैं, जिन्हें फोरैंसिक जांच के लिए भेजा गया है। इसी तरह पहले लिए गए मिश्रण सैंपल की अभी तक कोई रिपोर्ट नहीं मिल पाई है, जिसका इंतजार किया जा रहा है।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Related News

Recommended News