जिप की पहली बैठक में हुआ समितियों का गठन

2/23/2021 11:32:41 AM

धर्मशाला (तनुज) : जिला परिषद कांगड़ा की सोमवार को आयोजित पहली बैठक में विभिन्न समितियों का गठन किया गया। इतना ही नहीं इस बैठक में बजट भी पेश किया गया, लेकिन मनरेगा से जुड़े सभी शेल्फ न उपलब्ध होने के कारण इसे पारित नहीं किया गया। बैठक के दौरान नवनिर्वाचित जिप सदस्यों ने अपनी-अपनी मांगों भी उठाया। सोमवार को जिला परिषद कांगड़ा की पहली बैठक अध्यक्ष रमेश बराड़ की अध्यक्षता में हुई। इसमें विभिन्न समितियों साधारण स्थायी समिति, फाइनेंस समिति, कृषि एवं उद्योग समिति, सामाजिक न्याय समिति एवं जिलास्तर पर वनाधिकार समिति का गठन किया गया। वनाधिकार समिति में जिला परिषद कांगड़ा के 3 सदस्यों के नाम तय किए गए। बैठक के दौरान जिला परिषद कांगड़ा के लिए 35 करोड़ का बजट भी पेश किया गया, लेकिन इस बजट में मनरेगा से जुड़े शेल्फ विभिन्न खंड विकास अधिकारी कार्यालयों से आने शेष हैं, जिसके बाद ही बजट पारित होगा। इन शेल्फ के आने के बाद उम्मीद है कि यह बजट और बढ़ेगा। जिला परिषद कांगड़ा की पहली बैठक में ए.डी.सी. कांगड़ा राहुल कुमार भी मौजूद रहे। बैठक को शुरू करने से पहले सभी का परिचय भी हुआ, जिसमें जिला परिषद कांगड़ा के सदस्यों के अलावा अधिकारियों ने भी अपने परिचय सदस्यों को दिया।

केंद्र स्थल सदस्यों के बैठने की व्यवस्था करने की उठाई मांग

जिला परिषद बैठक में जिप सदस्यों ने अपनी समस्याएं भी रखी। इसमें चड़ी वार्ड के सदस्य पंकज ने अपनी मांगों में उठाया कि एक जिला परिषद सदस्य के पास 10 से ज्यादा पंचायतें होती हैं, ऐसे में उन्हें बैठने के लिए केंद्र स्थल पर व्यवस्था की जाए। जिससे कि वह लोगों की समस्याओं को सुनकर उनका समाधान कर सकें।

अगली बैठक में टेबल की व्यवस्था करने की कही बात

जिप कांगड़ा की बैठक में मझेड़ा वार्ड के सदस्य संजय राणा ने मांग उठाई कि परिषद की अगली बैठक से बैठने के लिए बेहतर व्यवस्था होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि व्यवस्था ऐसी हो कि सुविधाजनक तरीके से सदस्य बैठ सकें। साथ ही उन्होंने टेबल की भी व्यवस्था किए जाने की बात कही जिससे कि आराम से सदस्य अपनी मांगों को उठा सके और कार्यवाही में भागीदारी निभा सकें।
 


Content Writer

prashant sharma

Recommended News