NHM में अनुबंध के आधार पर भरे जाएंगे 320 पद, पढ़ें मंत्रिमंडल के अन्य फैसले

punjabkesari.in Wednesday, Aug 03, 2022 - 06:30 PM (IST)

शिमला (कुलदीप): राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) के तहत विभिन्न श्रेणियों के 320 पदों को अनुबंध के आधार पर भरा जाएगा। इसके अलावा विभिन्न विभागों में अलग-अलग श्रेणियों के 166 पदों को सृजित एवं भरा जाएगा। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की अध्यक्षता में आयोजित मंत्रिमंडल की बैठक में यह निर्णय लिया गया। बैठक में मुख्यमंत्री की कई घोषणाओं पर स्वीकृति की मोहर लगाई गई, जिसके आधार कई स्वास्थ्य, शिक्षण एवं अन्य संस्थानों को खोलने का निर्णय लिया गया तथा नए उपमंडल खोलने का निर्णय भी लिया गया। बागवानी विभाग में कनिष्ठ कार्यालय सहायक (आईटी) के 4 पदों को भरने की स्वीकृति भी प्रदान की गई।

स्वास्थ्य संस्थान स्तरोन्नत व खोलने का निर्णय
मंत्रिमंडल ने स्वास्थ्य संस्थानों को स्तरोन्नत करने एवं खोलने का निर्णय भी लिया। इसके तहत बिलासपुर जिला की तहसील घुमारवीं के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हटवाड़ को 10 बिस्तर क्षमता के स्वास्थ्य संस्थान में स्तरोन्नत करने का निर्णय लिया। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मलोखर को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में स्तरोन्नत करने के साथ-साथ इस स्वास्थ्य संस्थान के संचालन के लिए विभिन्न श्रेणियों के 3 पद सृजित कर भरने का निर्णय लिया। किन्नौर जिला की तहसील कल्पा के पांगी में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खोलने और इस संस्थान के लिए 3 पदों को सृजित कर भरने का निर्णय लिया गया। मंडी जिला की तहसील थुनाग के शिकावरी में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खोलने के साथ-साथ 3 पदों को सृजित कर भरने के लिए स्वीकृति प्रदान की गई। बिलासपुर जिला में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भाखड़ा को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में स्तरोन्नत करने के साथ 4 पदों को सृजित कर भरने का निर्णय लिया गया। बिलासपुर जिला में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गेहड़वीं और कलोल को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में स्तरोन्नत करने के साथ-साथ इन स्वास्थ्य संस्थानों के प्रबंधन के लिए 6 पदों को सृजित कर भरने का निर्णय लिया गया। किन्नौर जिला में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र स्पीलो को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में स्तरोन्नत करने के साथ-साथ आवश्यक पदों को सृजित कर भरने का निर्णय लिया गया। कुल्लू जिला की आनी तहसील के थैरहवीं में नया आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केंद्र खोलने को भी स्वीकृति दी गई। कांगड़ा जिला के ज्वाली विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत आम्बल ठेहड़ू और ग्राम पंचायत भाली के गांव भाली में नए आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केंद्र खोलने के साथ-साथ 6 पदों को सृजित कर भरने को मंजूरी प्रदान की। सोलन जिला के कसौली विधानसभा क्षेत्र के परवाणू में नया आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केंद्र खोलने और इसमें विभिन्न श्रेणियों के 3 पद सृजित कर भरने का निर्णय लिया गया। बिलासपुर जिला के श्री नयनादेवी जी विधानसभा क्षेत्र के जामली में नया आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केंद्र खोलने के साथ-साथ 3 पदों को सृजित कर भरने का निर्णय लिया गया। सोलन जिला में आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केंद्र गढख़ल को 20 बिस्तर क्षमता के आयुर्वेदिक अस्पताल में स्तरोन्नत करने के साथ-साथ इस नव स्तरोन्नत संस्थान के संचालन के लिए विभिन्न श्रेणियों के 11 पद सृजित कर उन्हें भरने का निर्णय लिया गया। सोलन जिला के जाडला में नया आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केंद्र खोलने और विभिन्न श्रेणियों के 3 पदों को सृजित कर भरने का निर्णय लिया गया। कांगड़ा जिला के पालमपुर विधानसभा क्षेत्र के मतेहड़ गांव में नया आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केंद्र खोलने के साथ-साथ विभिन्न श्रेणियों के 3 पद सृजित कर भरने को मंजूरी प्रदान की गई। श्री नयनादेवी जी विधानसभा क्षेत्र के तहत धुलेट में आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केंद्र खोलने के साथ-साथ विभिन्न श्रेणियों के 3 पद सृजित कर भरने का निर्णय लिया गया। मंडी जिला के नेरचौक में स्थित श्री लाल बहादुर शास्त्री राजकीय आयुर्विज्ञान महाविद्यालय एवं अस्पताल के परिसर में किए गए निर्माण को नियमित करने का भी निर्णय लिया गया।

शहीदों के नाम पर स्कूलों का नामकरण
बैठक में शहीदों को सम्मान प्रदान करने के लिए उनके नाम पर स्कूलों का नामकरण करने का निर्णय लिया। इसके तहत सिरमौर जिले के राजकीय उच्च पाठशाला कोटरी ब्यास का नाम बदलकर शहीद कमल कांत मैमोरियल राजकीय उच्च पाठशाला कोटरी ब्यास, राजकीय उच्च पाठशाला सुनोग का नाम शहीद रविंद्र सिंह चौहान राजकीय उच्च पाठशाला सुनोग, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला मानपुर देवरा का नाम शहीद सोहन सिंह मेमोरियल राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला मानपुर देवरा और राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला बानौर का नाम शहीद राजेंद्र सिंह मेमोरियल राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला बानौर रखने का निर्णय लिया गया।

नए शिक्षण संस्थान खोलने व स्तरोन्नत करने की मंजूरी
मंत्रिमंडल ने प्रदेश के अलग-अलग स्थानों पर नए शिक्षण संस्थान खोलने व स्तरोन्नत करने का निर्णय लिया गया। इसके तहत कुल्लू विधानसभा क्षेत्र के शैक्षणिक खंड कुल्लू-प्रथम के अंतर्गत कियाणी में नया प्राथमिक विद्यालय खोलने को स्वीकृति प्रदान की। कांगड़ा जिला के शाहपुर विधानसभा क्षेत्र के रिड़कमार, सोलन जिला के नालागढ़ विधानसभा क्षेत्र के बरुणा तथा हमीरपुर जिला के नादौन विधानसभा क्षेत्र के गलोड़ में नए राजकीय महाविद्यालय खोलने और प्रत्येक महाविद्यालय के लिए विभिन्न श्रेणियों के 16 पद सृजित कर भरने को स्वीकृति प्रदान की गई। ऊना जिला के ङ्क्षचतपूर्णी विधानसभा क्षेत्र के गांव कुठेड़ा बेला और गांव कैंट में नए राजकीय प्राथमिक विद्यालय खोलने को भी स्वीकृति प्रदान की गई। चंबा जिला में नव-स्वीकृत राजकीय स्नातक महाविद्यालय बनीखेत में विभिन्न श्रेणियों के 12 पद भरने को स्वीकृति प्रदान की गई। कांगड़ा जिला के शाहपुर विधानसभा क्षेत्र के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला, घरोह में वाणिज्य कक्षाएं और राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला, बोह एवं राजोल में विज्ञान (नॉन-मेडिकल) की कक्षाएं आरम्भ करने तथा आवश्यक पदों को सृजित कर भरने को स्वीकृति प्रदान की गई। चम्बा जिले के राजकीय उच्च विद्यालय सरार, पुखरी, कदेड़, रान, भराड़ा और कांडला, मंडी जिले के राजकीय उच्च विद्यालय, मंजखेतर, कांगड़ा जिले के राजकीय उच्च विद्यालय, गगवाल और हमीरपुर में राजकीय उच्च विद्यालय पनसाई को राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों में स्तरोन्नत करने और चम्बा जिले में राजकीय माध्यमिक विद्यालय झौरा, प्रियुंगल, करोरी, मंगली, अनियुंडा, सारंगेर, औला और बिहाली को राजकीय उच्च विद्यालय, कांगड़ा जिला के राजकीय माध्यमिक विद्यालय राजा खास, मंडी जिला के राजकीय माध्यमिक विद्यालय पंजोलठ को राजकीय उच्च विद्यालयों में स्तरोन्नत करने एवं इन संस्थानों में आवश्यक पदों को सृजित कर भरने का निर्णय लिया गया। सोलन जिले के कसौली विधानसभा क्षेत्र के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों चेवा, कांडा, गइघाट और कक्कड़हट्टी में वाणिज्य कक्षाएं और राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों, प्राथा, भोजनगर और कोटबेजा में विज्ञान की कक्षाएं आरम्भ करने और इन शिक्षण संस्थानों को संचालित करने के लिए विभिन्न श्रेणियों के 16 पद सृजित करने को स्वीकृति प्रदान की गई।

कांगड़ा के शाहपुर में नया उप-अग्निशमन केंद्र खोलने की स्वीकृति
मंत्रिमंडल ने सोलन जिला के कनोला उपरला स्थित राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान में फिटर, टैक्नीकल में काट्रॉनिक्स, मैकेनिक इलैक्ट्रिक व्हीकल और कम्प्यूटर ऑप्रेटर एवं प्रोग्रामिंग असिस्टैंट के नए ट्रेड आरम्भ करने तथा विभिन्न श्रेणियों के 14 पद सृजित कर भरने का निर्णय लिया। मंत्रिमंडल ने जिला सोलन के राजकीय पॉलिटैक्नीक महाविद्यालय (महिला) कंडाघाट में इलैक्ट्रीकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा पाठ्यक्रम और कांगड़ा जिले के राजकीय पॉलिटैक्नीक महाविद्यालय तलवाड़ में फॉर्मेसी में डिप्लोमा पाठ्यक्रम शुरू करने और विभिन्न श्रेणियों के आवश्यक पद सृजित कर भरने का निर्णय लिया। मंत्रिमंडल ने कांगड़ा जिला के शाहपुर में नया उप-अग्निशमन केंद्र खोलने और विभिन्न श्रेणियों के 23 पद सृजित कर भरने के अलावा इस केंद्र के लिए 3 दमकल वाहन खरीदने को भी स्वीकृति प्रदान की।

नए मंडल व उपमंडल खुले, पद भी स्वीकृत
मंत्रिमंडल ने कई स्थानों पर नए मंडल एवं उपमंडल खोलने के साथ इसके लिए आवश्यक पदों को सृजित करने एवं भरने का निर्णय भी लिया। इसके तहत सोलन जिला के कसौली विधानसभा क्षेत्र के धर्मपुर में जल शक्ति विभाग का नया मंडल कार्यालय खोलने और इसके सुचारू संचालन के लिए विभिन्न श्रेणियों के 13 पद सृजित कर भरने को स्वीकृति प्रदान की। बिलासपुर जिला के झंडूता विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत जल शक्ति मंडल झंडूता के तहत तलाई में नया उपमंडल खोलने तथा इसके लिए विभिन्न श्रेणियों के 4 पद सृजित कर भरने को स्वीकृति प्रदान की गई। जल शक्ति मंडल घुमारवीं के अंतर्गत बहेड़ में कनिष्ठ अभियंता अनुभाग और कपाहड़ा में 1 अनुभाग खोलने तथा इनके लिए विभिन्न श्रेणियों के 8 पद सृजित कर भरने को स्वीकृति प्रदान की गई। कांगड़ा जिला के जल शक्ति मंडल नगरोटा बगवां के अंतर्गत कंडी में नया अनुभाग खोलने तथा इसके लिए 4 पद सृजित कर इन्हें भरने को भी स्वीकृति प्रदान की गई। 

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Related News

Recommended News