छितकुल के पास मिला पश्चिम बंगाल के पर्यटक का शव, 8 माह पहले ट्रैकिंग के दौरान हुआ था लापता

punjabkesari.in Sunday, Jun 19, 2022 - 09:13 PM (IST)

रिकांगपिओ (रिपन): जिला किन्नौर के छितकुल के पास लामखागा नामक स्थान पर पैट्रोलिंग पर गई आईटीबीपी व एसआरपी टीम ने शनिवार शाम को पश्चिम बंगाल के एक पर्यटक का शव बरामद किया है। आईटीबीपी ने शव को किन्नौर पुलिस के सुपुर्द कर दिया है। शव को पोस्टमार्टम के लिए सीएचसी सांगला में रखा गया है। मृतक की पहचान सुखेन मांझी निवासी रघापुर, डाकघर नेपाल गंज, जिला साऊथ 24 प्रागना (पश्चिम बंगाल) के रूप में हुई है। जानकारी के अनुसार डिप्टी कमांडैंट आईटीबीपी विनय शर्मा ने 17 जून को सांगला थाना में सूचना दी थी कि लामखागा नामक स्थान पर जब उनके जवान गश्त पर थे तो उन्हें वहां पर किसी व्यक्ति का शव पड़ा हुआ मिला है, जिस पर आईटीबीपी के जवानों द्वारा शनिवार शाम को शव व उसके पास से बरामद सामान को चैक पोस्ट खन्ना दुमती लाया गया। 

शव बरामद होने की सूचना मिलते ही थाना सांगला से थाना प्रभारी पुलिस टीम के साथ चैकपोस्ट खन्ना दुमती पहुंचे तथा मामले की छानबीन की तथा छानबीन से पुलिस को शक हुआ कि यह शव पश्चिम बंगाल के उस पर्यटक का है, जो कि अक्तूबर 2021 में अपने दल के साथ ट्रैकिंग के लिए आया था, जो कि अभी तक लापता था। शव की पहचान के लिए पुलिस ने मृतक के परिजनों से संपर्क किया तथा शव व उसके पास से बरामद सामान के फोटो परिजनों को भेजे, जिस पर मृतक के भाई सुभेन्द्रु मांझी व पत्नी लोभनी मांझी ने शव की पहचान की। जिला पुलिस अधीक्षक किन्नौर ने बताया कि पुलिस द्वारा शव का पोस्टमार्टम करवाया जा रहा है तथा शव को परिजनों को सौंपने के लिए कार्रवाई की जा रही है।

बता दें कि अक्तूबर 2021 में जिला किन्नौर के छितकुल क्षेत्र के निथ्थल ताच नामक स्थान के पास 11 पर्यटकों का एक दल ट्रैकिंग के लिए निकला था, जिसमें 7 पर्यटकों की मौत हो गई थी जबकि 2 को रैस्क्यू कर लिया गया था तथा इनमें से 2 पर्यटक सुखेन मांझी व ज्ञान चंद लापता थे, जिसमें से सुखेन मांझी का शव बरामद कर लिया गया है जबकि ज्ञान चंद अभी भी लापता है। 

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Related News

Recommended News