हिमाचल में सामूहिक नेतृत्व में चुनाव लड़ेगी कांग्रेस : सुखविंदर सुक्खू

punjabkesari.in Friday, Apr 15, 2022 - 12:01 AM (IST)

हमीरपुर (प्रकाश): हिमाचल प्रदेश का मुख्य सचिव क्यों भ्रष्टाचार कर रहा है इस बात का जवाब अगर देश का प्रधानमंत्री किसी राज्य के मुख्यमंत्री से पूछ रहा हो, इससे बड़ी सरकार की निष्क्रियता और क्या हो सकती है। यह सवाल प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुखविंदर सिंह सुक्खू ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए उठाया है। सुखविंदर सिंह सुक्खू ने कहा कि प्रदेश का कांग्रेसी नेतृत्व पिछले 4 वर्षों से लगातार यह कह रहा है कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का किसी पर नियंत्रण नहीं है और अफसरशाही बेलगाम है, इस बात पर स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुहर लगा दी है। इसलिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को इस बारे में स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए कि वह भ्रष्टाचार में डूबी व्यवस्था को नियंत्रित करने में क्यों विफल रहे हैं। 

एकजुटता से जीते प्रदेश के चारों के उपचुनाव

सुक्खू ने कहा कि हमीरपुर में अर्से बाद कांग्रेस एकजुट हुई है लेकिन प्रदेश में अभी भी कई गुट हैं, इस बारे में पूछे जाने पर पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि जिस प्रकार आपको मंच पर कांग्रेस एक नजर आ रही है वैसा ही प्रदेश में भी है। एकजुटता के कारण ही हमने प्रदेश के चारों के उपचुनाव जीते हैं और मत भिन्नता और खींचतान के कारण भारतीय जनता पार्टी हारी है। प्रदेश में बड़ी जिम्मेदारी मिलने पर किन मुद्दों को लेकर प्रदेश में जाएंगे के सवाल पर पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि मुझे दुख है कि देश संकट में है क्योंकि एक पार्टी देश को बेच रही है और दूसरी इसके खजाने को मुफ्त में बांटकर खाली कर रही है।

कांग्रेस ने 70 वर्षों में जो संस्थान खड़े किए उनको बेचे रहे मोदी 

कांग्रेस नेताओं ने मेहनत करके 70 वर्षों में जो संस्थान खड़े किए हैं उनको मोदी जी बेचे जा रहे हैं और केजरीवाल जो खजाने में आ रहा है उसको मुफ्त में बांट रहे हैं। कांग्रेस जनता के हाथ में अधिक पैसा आए इसके लिए रोजगार देती है, नए-नए संस्थान खड़े करती है और आम आदमी के हाथ में ताकत देती है। इन्हीं बातों को लेकर हम जनता में जाएंगे, साथ में प्रदेश सरकार की नाकामियां भी लोगों को बताएंगे। प्रदेश में कांग्रेस के नेतृत्व परिवर्तन पर सुक्खू ने कहा कि कि वैसे तो कांग्रेस में नेतृत्व परिवर्तन होते रहते हैं लेकिन अबकी बार सबने मिलकर यह तय किया है कि कौन नेतृत्व करेगा, कौन मुख्यमंत्री बनेगा इसको छोड़ कर कुलदीप राठौर, मुकेश अग्निहोत्री, आशा कुमारी, कर्नल धनीराम शांडिल, राजेंद्र राणा, इंद्रदत्त लखनपाल, विक्रमादित्य सिंह सब एकजुट होकर सामूहिक नेतृत्व में प्रदेश में चुनाव लड़ने के लिए तैयार हैं और फर्स्ट व्यवस्था को बदलने के लिए पसीना बहा रहे हैं क्योंकि हमारा मकसद सत्ता के लिए राजनीति करना नहीं है। 

अनुराग, धूमल, नड्डा और जयराम के खेमों में बंटी भाजपा

सुक्खू ने कहा कि कांग्रेस में सब हाथ के साथ हैं लेकिन भाजपा अनुराग, धूमल, नड्डा और जयराम के खेमों में बंट गई है। 

छिटक गए लोगों की घर वापसी पर योजना 

हमीर होटल में हुई सुखविंदर सिंह सुक्खू, राजिंदर राणा व इंद्रदात लखनपाल के बीच हुई गुप्त मंत्रणा में जिला के शीर्ष नेतृत्व में कांग्रेस की मजबूती के लिए एकजुट होकर काम करने का संकल्प लिया गया। यही नहीं जिला और प्रदेश में कांग्रेस से छिटक रहे लोगों को पार्टी में रहने और पार्टी से छिटक चुके लोगों की घर वापसी करवाने के लिए बड़ी योजना बनाई गई। इन तीनों नेताओं के साथ पूर्व विधायक कुलदीप पठानिया, जिला कांग्रेस अध्यक्ष राजेंद्र जार, सुरेश कुमार और सुनील शर्मा बिट्टू मौजूद रहे।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Related News

Recommended News