मैदानी व मध्य पर्वतीय क्षेत्रों में आगामी 24 घंटों के दौरान अंधड़, बारिश, ओलावृष्टि और ऊंचे क्षेत्रों में बर्फ बारी की संभावना

punjabkesari.in Monday, May 16, 2022 - 11:45 PM (IST)

शिमला (ब्यूरो): राजधानी शिमला में मंगलवार दोपहर बाद मौसम का मिजाज अचानक बदल गया। करीब 2 बजे के बाद शिमला सहित आसपास के स्थानों पर ओलावृष्टि के साथ तेज बारिश हुई। इससे शहर के तापमान में गिरावट आई और मौसम हल्का ठंडा हो गया। गत दिवस शिमला में अधिकतम तापमान 30 डिग्री पार कर गया था, जबकि सोमवार को यहां का अधिकतम तापमान 29.4 डिग्री दर्ज किया गया। दोपहर के समय यहां एक घंटा तेज बारिश हुई। इस दौरान अंधड़ के साथ लगातार बिजली कड़कती रही। शिमला से सटे पर्यटन स्थलों कुफ री, छराबड़ा इत्यादि में भारी ओलावृष्टि से सड़क सफेद हो गई, जिससे यातायात भी कुछ देर के लिए बाधित रहा। शिमला जिले के ऊपरी क्षेत्रों में ओलावृष्टि से सेब की फ सल को नुक्सान पहुंचा है।

शिमला में 9 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई। इसके अलावा सोलन 13, कांगड़ा 10, धर्मशाला 6 और मंडी में 3 मि.मी. बारिश दर्ज की गई। इस बीच राज्य के मैदानी इलाके गर्मी से बेहाल हैं तथा चार जिलों का पारा 40 डिग्री पार कर गया है। बादलों के बरसने के बावजूद सोमवार को भी सीजन का सबसे गर्म दिन रहा। ऊना का अधिकतम तापमान 44.5 डिग्री दर्ज किया गया। वहीं बिलासपुर में 42 डिग्री, हमीरपुर 40.5, कांगड़ा 40.4, सुंदरनगर 38, चम्बा 37.9, भुंतर 37.4, सोलन 35, धर्मशाला 34.8, पालमपुर 33.4, डल्हौजी में 26.8, कल्पा में 25 और कुफरी में 18 डिग्री दर्ज किया गया।

मौसम केंद्र के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने की वजह से मौसम में परिवर्तन आया है। विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार 17 से 20 मई तक प्रदेश के मैदानी व पर्वतीय भागों में अंधड़, बारिश, ओलावृष्टि और ऊंचे क्षेत्रों में बर्फ बारी की संभावना है। मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटों के दौरान मैदानी व मध्य पर्वतीय क्षेत्रों में गरज के साथ भारी बारिश व ओलावृष्टि का यैलो अलर्ट जारी किया है। इस दौरान 30 से 40 किलोमीटर प्रति रफ्तार की गति से अंधड़ चलने की आशंका जताई गई है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Kuldeep

Related News

Recommended News