नारकंडा से हाटूपीक व पंडोह से बगलामुखी मंदिर तक बनेंगे रोप-वे मार्ग

10/21/2019 11:27:24 PM

शिमला: हिमाचल में पर्यटन स्थलों को बढ़ावा देने के लिए नारकंडा से हाटूपीक व पंडोह डैम से बगलामुखी मंदिर तक रोप-वे मार्ग बनेंगे। प्राथमिक चरण में प्रदेश के जिला शिमला व मंडी में रोप-वे मार्गों का निर्माण प्रस्तावित है। इन दोनों पर्यटन स्थलों में रोप-वे बनने से पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा और देश-विदेश से हिमाचल आने वाले पर्यटक प्रदेश में प्राकृतिक सुंदरता को निहार सकेंगे। दोनों जिलों के इन पर्यटक स्थलों में रोप-वे के निर्माण को लेकर रोप-वे एंड रैपिड ट्रांसपोर्ट डिवैल्पमैंट कॉर्पाेरेशन ने तैयारी शुरू कर दी है, वहीं रोप-वे निर्माण कार्य को लेकर टैंडर भी आमंत्रित कर दिए हैं। निर्माण कार्य को लेकर टैंडर प्रक्रिया पूरी होने के बाद दोनों स्थानों पर प्रस्तावित रोप-वे मार्ग को मंजूरी के लिए सरकार को भेजा जाएगा। सरकार की मंजूरी आते ही रोप-वे निर्माण कार्य शुरू भी हो जाएगा।

इतने किलोमीटर के होंगे दोनों रोप-वे मार्ग

जिला मंडी में चंडीगढ़-मनाली नैशनल हाईवे पर पंडोह डैम के नजदीक पंडोह डैम से माता बगलामुखी मंदिर तक 8 किलोमीटर का रोप-वे बनेगा। यह मार्ग डैम के रास्तों से होकर मंदिर पहुंचता है। इस क्षेत्र में डैम के किनारे और ऊंचे पहाड़ों पर स्थित माता का मंदिर पर्यटकों को खूब लुभाता है। वहीं जिला शिमला में नारकंडा से हाटूपिक तक 3.10 किलोमीटर का रोप-वे का मार्ग बनेगा। नारकंडा से सड़क मार्ग से लगभग 10 किलोमीटर की दूरी पर माता हाटू का मंदिर हैं जहां पर हर साल देश व विदेशों से पर्यटक पहुंचते हैं।

क्या बोले रोप-वे एंड ट्रांसपोर्ट डिवैल्पमैंट कॉर्पोरेशन के अधिकारी

रोप-वे एंड ट्रांसपोर्ट डिवैल्पमैंट कॉर्पोरेशन के सीजीएम ई. अजय शर्मा ने बताया कि प्रदेश के जिला शिमला व मंडी में दो रोप-वे मार्ग बनना प्रस्तावित हैं। शिमला में यह मार्ग नारकंडा से हाटकोटी तक बनेगा। वहीं जिला मंडी में पंडोह से बगलामुखी माता मंदिर तक बनाया जाएगा। रोप-वे निर्माण को लेकर टैंडर आमंत्रित कर दिए हैं।


Vijay

Related News