सरकार चलाने के लिए जयराम को बनना पड़ेगा वीरभद्र का शिष्य : विक्रमादित्य सिंह

punjabkesari.in Saturday, Aug 06, 2022 - 11:06 PM (IST)

नाहन (दलीप): कांग्रेस विधायक एवं रोजगार संघर्ष यात्रा के संयोजक विक्रमादित्य सिंह की अगुवाई में रोजगार संघर्ष यात्रा दिल्ली गेट से माल रोड बस स्टैंड होते हुए बड़ा चौक तक निकाली गई। जहां एक जनसभा का आयोजन भी किया गया। विक्रमाादित्य सिंह ने जयराम ठाकुर को नसीहत देते हुए कहा कि अगर सरकार चलानी सीखनी है तो वीरभद्र सिंह का शिष्य बनना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि जयराम एक लाचार मुख्यमंत्री हैं, जिन पर उन्हें तरस आता है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की चाबी दिल्ली से घूमती है। सीएम सुबह निर्णय कुछ लेते हैं और शाम को दिल्ली से फोन आने पर उन्हीं को बदल देते हैं। 

तब सिलैंडर सिर पर उठाकर घूमतीं थीं भाजपा नेत्रियां
विक्रमादित्य ने स्मृति ईरानी पर तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस के कार्यकाल में भाजपा नेत्री सिलैंडर सिर पर उठाकर घूमती दिखती थीं और महंगाई पर प्रदर्शन कर खूब प्रसिद्धि हासिल की थी लेकिन उस वक्त कांग्रेस के कार्यकाल में सिलैंडर 400 रुपए का था और आज वही सिलैंडर 1100 रुपए पार कर चुका है। आज वो भाजपा नेत्रियां कहां हैं।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Related News

Recommended News