लिखा था प्रकृति मां के बिना जीवन कुछ भी नहीं... और फिर प्रकृति में ही समा गई वो

7/26/2021 10:49:39 AM

किन्नौर : हिमाचल की वादियों को निहारते हुए प्रकृति की गोद में आकर वो बहुत खुश नजर आ रही थी। हिमाचल के पहाड़ों और वहां की खूबसूरती के साथ अपने फोटो भी क्लिक कर रही थी। अपने एक फोटो को उन्होंने ट्वीटर पर पोस्ट किया था और लिखा था प्रकृति मां के बिना जीवन कुछ भी नहीं... पर शायद उसे भी नहीं पता था कि ये उनका आखिरी फोटो होगा और आखिरी पोस्ट भी। इस फोटो को ट्वीटर पर पोस्ट करने के कुछ ही देर बाद वो प्रकृति के आगोश में समा गई। हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में रविवार कोहुए भूस्खलन में 9 पर्यटकों की मौत हो गई थी। उनमें से एक थी जयपुर की डाॅ. दीपा शर्मा जो आयुर्वेदिक चिकित्सक थी और अपने घर पर क्लीनिक चलाती थी। भूस्खलन में हुए हादसे में दीपा की मौत हो गई थी। 
PunjabKesari
जयपुर के गुर्जर की थड़ी स्थित शांतिनगर निवासी 34 वर्षीय दीपा शर्मा एक ट्रेवलर में हिमाचल प्रदेश घूमने के लिए आई थी और यह उनका आखिरी सफर साबित हुआ। अपनी यात्रास के दौरान वो अपने कैमरे में ना सिर्फ प्रकृति की खूबसूरती को कैद कर रही थी बल्कि प्रकृति के साथ अपने फोटो भी सोशल मीडिया पर पोस्ट करती जा रही थी। घटना स्थल पर भी उन्होंने काफी फोटो क्लिक किए थे। इनमें से एक फोटो पर उन्होंने लिखा था- भारत के उस आखिरी पॉइंट पर खड़ी हूं जिसके आगे जाने की नागरिकों को अनुमति नहीं है. इस जगह से करीब 80 किलोमीटर दूर तिब्ब्त का बॉर्डर है, जिस पर चीन ने अवैध कब्जा कर रखा है। यहां बता दें कि रविवार कोहिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में बटसेरी के पहाड़ी से पत्थर टूट कर नीचे गिर रहे थे। पहाड़ से गिरती चट्टानों में कई वाहन चपेट में आ गए थे। इनमें से एक बड़ा सा पत्थर पर्यटकों कीि एक गाड़ी पर गिर गया था, जिसमें 9 लोगों की मौत हो गई थी और तीन लोग गंभीर घायल हो गए थे। 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

prashant sharma

Recommended News

static