मिनी स्विट्जरलैंड की झील में मरने लगीं पवित्र मछलियां, लोगाें में मचा हड़कंप

4/20/2021 5:41:39 PM

डल्हौजी: हिमाचल प्रदेश के चम्बा जिला के मिनी स्विट्जरलैंड से विश्व विख्यात पर्यटन स्थल खजियार की खूबसूरत व पवित्र झील में बड़ी जीव त्रासदी देखने को मिली है। झील के किनारे मृत मछलियों का ढेर लग रहा है। इस झील में रहने वाली मछलियों को पवित्र माना जाता है। बीते कुछ दिनों से ये पवित्र मछलियां मर रही हैं, जिसकी वजह से यहां घूमने आ रहे पर्यटक व स्थानीय लोगाें में हड़कंप मच गया है। कोरोना की वजह से लोग पहले से ही खौफ में हैं और अब अचानक झील में सैंकड़ों की संख्या में मछलियों की मौत होने से लोग और भी डर गए हैं।

मत्स्य विभाग द्वारा मछलियों के मरने का कारण झील में गाद का बढ़ना व मछलियों की बढ़ती जनसंख्या बताया जा रहा है।वहीं तालाब के किनारे लगे मृत मछलियों के ढेर से बदबू आ रही है, जिसके कारण आसपास के लोगों को व यहां घूमने आने वाले पर्यटकों को परेशानी झेलनी पड़ रही है। खजियार की झील में इतनी बड़ी संख्या में मछलियों के मरने का यह पहला मामला है। बहरहाल झील का पानी देखने में एकदम साफ लग रहा है, ऐसे में झील में इस तरह की बड़ी जीव त्रासदी का सामने आना जांच का विषय है। फिलहाल इस समस्या से निपटने के लिए मत्स्य व वन विभाग को साथ मिलकर रणनीति बनानी चाहिए। गौरतलब है कि सरकार खजियार झील के सौंदर्यीकरण पर लाखों-करोड़ाें रुपए खर्च कर रही है फिर भी यह झील दुर्दशा का शिकार हो रही है।

मत्स्य विभाग चम्बा के असिस्टैंट डायरैक्टर भूपिंदर कुमार ने बताया कि मछलियों के मरने का कारण झील में गाद का बढ़ना व मछलियों की ब्रीडिंग से उनकी तदाद बढ़ने से झील में जगह कम पड़ना है, इसलिए मछलियों को मरने से बचाने के लिए उन्हें कहीं और शिफ्ट करना पड़ेगा। भूपिंदर कुमार ने कहा कि यह झील वाइल्ड लाइफ के अधीन है अगर वे मछलियों को शिफ्ट नहीं करते हैं तो मछलियों को मत्स्य विभाग भी शिफ्ट कर सकता है।


Content Writer

Vijay

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static