सरकार जल्द टेकओवर करेगी बड़े प्राइवेट अस्पताल : महेंद्र सिंह

11/25/2020 5:27:27 PM

मंडी (पुरुषोत्तम शर्मा): अब जहां भी कोरोना संक्रमण के बाद हॉटस्पॉट बनते जा रहे हैं वहां खास निगरानी रखी जाएगी और सरकार जल्द कुछ बड़े प्राइवेट अस्पताल टेकओवर करने जा रही है। यह बात जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने मंडी में पत्रकार वार्ता करते हुए कही। उन्होंने कहा कि मंडी जिला में भी सुंदरनगर, पंडोह, सरकाघाट और जोगिंद्रनगर एरिया में ज्यादा मामले बढ़े हैं लिहाजा यहां भी संभावनाएं तलाशी जा रही हैं। कोरोना वारियर्ज अस्पतालों में इलाज करते हुए ज्यादा संक्रमित न हो इसके लिए सावधानी बरतने के निर्देश दिए गए हैं। होम आइसोलेशन में भी संक्रमितों की चिकित्सक बराबर निगरानी रखेंगे और जरूरत अनुसार रोगियों को कोविड अस्पताल शिफ्ट किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इस बारे मंत्रिमंडल में भी सभी मंत्रियों को निर्देश दिए हैं।

पत्रकार वार्ता में सवालों के जबाव देते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने कोरोना महामारी के प्रसार के बढ़ते खतरे को रोकने के लिए कुछ अंकुश लगाए हैं। जनता द्वारा बरती जा रही लापरवाही और विभिन्न कार्यक्रमों के आयोजनों ने संक्रमण के प्रसार का खतरा बढ़ा दिया है, ऐसे में सरकार ने खुले स्थानों पर सभी सामाजिक, राजनीतिक व सांस्कृतिक समारोहों में सामाजिक नियमों के साथ केवल 200 लोगों के शामिल होने का निर्णय लिया है। इसके अलावा शिमला, मंडी, कांगड़ा और कुल्लू जिलों में 24 नवम्बर से 15 दिसम्बर तक रात 8 बजे से सुबह 6 बजे तक रात्रि कर्फ्यू लगाने का निर्णय लिया है।

उन्होंने कहा कि जो लोग रात्रि कर्फ्यू को लेकर सवाल उठा रहे हैं उनका काम सवाल उठाना मात्र ही रह गया है। उनकी जनता के प्रति जबावदेही शून्य है। विपक्ष के लोग कमरों में बैठकर रोज बयान दे रहे हैं लेकिन वे कहीं जनता के बीच दिखाई नहीं दिए। यह निर्णय सामाजिक कार्यक्रमों जैसे विवाह आदि में बड़ी संख्या में लोगों के शामिल होने से रोकने के लिए लिया गया है। इसके अलावा प्रदेश सरकार ने तृतीय और चतुर्थ श्रेणी के सरकारी कर्मचारियों की कार्यालयों में उपस्थिति को 50 प्रतिशत करने का निर्णय लिया है।

उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि पहले से बीमारियों से ग्रसित लोगों व बुजुर्गों के कोरोना संक्रमित होने पर उन्हें अस्पताल में दाखिल करवाएं ताकि उन्हें समय पर उचित उपचार मिल सके। इसके अतिरिक्त अन्य कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए होम आइसोलेशन अधिक उपयुक्त है। उन्होंने कहा कि मास्क लगाना, बार-बार हाथ धोना और 2 गज की दूरी जैसे सामान्य स्वास्थ्य उपायों को आदत में शामिल कर कोरोना संक्रमण से बचाव संभव है।


Vijay

Recommended News