कोरोना संकट में अनाथ हुए बच्चों का जिम्मा उठाएगी कांग्रेस : जीएस बाली

5/15/2021 10:05:11 PM

कांगड़ा (कालड़ा): कांग्रेस हाईकमान की ओर से प्रदेश में गठित कोरोना रिलीफ  वर्क कमेटी के अध्यक्ष पूर्व मंत्री बाली ने कहा कि कोरोना महामारी की वजह से अनाथ होने वाले बच्चों के पालन-पोषण का जिम्मा कांग्रेस पार्टी उठाएगी। पूर्व मंत्री जीएस बाली ने जारी प्रैस विज्ञप्ति में कहा कि हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमण की वजह से अगर किसी बच्चे के माता-पिता दोनों का ही निधन होता है तो कांग्रेस पार्टी उस बच्चे को बालिग होने तक हर महीने 2 हजार रुपए की आर्थिक सहायता देगी ताकि उसके पालन-पोषण में कोई कमी न आए। शुरूआत में हिमाचल प्रदेश के 25 अनाथ बच्चों को योजना का लाभ दिया जाएगा। बाली ने कहा कि 21 मई, 2021 से पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि के अवसर पर पार्टी की इस योजना को शुरू किया जाएगा।

जीएस बाली ने कहा कि कोरोना महामारी ने हर वर्ग को तोड़ कर रख दिया है। गरीब वर्ग इस संकट में ज्यादा मुश्किल में है। कोरोना महामारी में जिन लोगों की नौकरी चली गई या आॢथक तंगी की वजह से जिनको परेशानी आ रही है, उनके लिए राजीव गांधी हैल्पलाइन नंबर देश भर में पहले ही शुरू कर दिया है। इस हैल्पलाइन नंबर पर रोजाना हजारों लोग मदद पा रहे हैं। इस संकट के दौरान में कई बच्चे अनाथ हो गए हैं। इन अनाथ बच्चों के पालन-पोषण का जिम्मा कांग्रेस पार्टी ने उठाने का निर्णय लिया है। इस योजना का लाभ पाने के लिए कोई भी व्यक्ति कांग्रेस पार्टी के टोल फ्र ी नंबर 18001808012 और लैंड लाइन नंबर 01892260038 पर 24 घंटे फाेन कर सकता है। प्रार्थी को अपने माता-पिता का कोई प्रमाण पत्र दिखाना होगा, जिसमें लिखा हो कि उनका निधन कोरोना संक्रमण की वजह से हुआ है।

गौरतलब है कि करीब एक हफ्ते पहले कांग्रेस हाईकमान ने पूर्व मंत्री जीएस बाली को हिमाचल की जनता की मदद के लिए कोरोना रिलीफ  वर्क कमेटी का अध्यक्ष बनाया था। इसके बाद बाली ने हिमाचल की जनता की मदद के लिए पूरे प्रदेश में कांग्रेस कार्यकर्ताओं की टीमें गठित कर ली थीं, जिनके जरिए लोगों की मदद की जा रही है। उन्होंने कोरोना हैल्पलाइन नम्बर 01892260038 जारी किया था जो 24 घंटे काम करेगा। जीएस बाली जिले में 3 मुफ्त एम्बुलैंस सेवा भी शुरू कर रहे हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Recommended News

static