फतेहपुर व मंडी उपचुनाव में आमने-सामने होंगी कांग्रेस-भाजपा

4/12/2021 12:03:56 AM

शिमला (देवेंद्र): 2022 के रण से पहले कांग्रेस-भाजपा 2 उपचुनावों में आमने-सामने होंगी। फतेहपुर विधानसभा चुनाव में लगातार 3 बार हारने वाली सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी यहां हर हाल में जीत दर्ज करके अपना रुतबा बढ़ाना चाहेगी। इसी तरह भाजपा मंडी लोकसभा सीट पर पूर्व सांसद स्व. रामस्वरूप को 2019 में मिली प्रचंड जीत के अंतर को बरकरार रखने की कोशिश करेगी। वहीं कांग्रेस भी चुनाव जीतने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगाएगी।

फतेहपुर विधानसभा क्षेत्र से वर्ष 2009 में स्व. सुजान सिंह पठानिया ने उप चुनाव जीता। उसके बाद 2012 और 2017 में भी निर्वाचित हुए। अब पठानिया के निधन के बाद यहां उप चुनाव होना तय है। कांग्रेस इस सीट को हर हाल में जीतकर भाजपा को 2022 के विधानसभा चुनाव से पहले करारा जवाब देना चाहेगी। वहीं मंडी लोकसभा सीट से 2 बार हार झेल चुकी कांग्रेस यहां बढ़त बनाने का प्रयास करेगी। यहां से भाजपा के रामस्वरूप शर्मा 2 बार 2014 और 2019 में विजयी हुए। 2014 में उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह की पत्नी प्रतिभा सिंह और 2019 में पूर्व ऊर्जा मंत्री अनिल शर्मा के बेटे आश्रय शर्मा को हराया था। मंडी लोकसभा सीट से भाजपा जीत की हैट्रिक लगाने की कोशिश करेगी।

धर्मशाला नगर निगम में अब तक के समीकरण बता रहे हैं कि भाजपा यहां अपना मेयर व डिप्टी मेयर बना लेगी। ऐसा हुआ तो मंडी और धर्मशाला में भाजपा तो पालमपुर व सोलन में कांग्रेस के आने से निगम चुनाव का मुकाबला फिफ्टी-फिफ्टी माना जाएगा। अब दोनों दलों ने उप चुनाव जीतने के लिए ताल ठोकनी शुरू कर दी है। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कश्यप भी कह चुके हैं कि जल्द उप चुनाव की रणनीति तय की जाएगी।

चुनाव शैड्यूल का हो रहा इंतजार

अब केंद्रीय निर्वाचन आयोग द्वारा चुनाव शैड्यूल जारी करने का इंतजार हो रहा है। सूचना के अनुसार पश्चिम बंगाल सहित 4 अन्य प्रदेशों में विधानसभा चुनाव संपन्न होने के बाद हिमाचल में उप चुनाव का बिगुल बज जाएगा।


Content Writer

Vijay

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static