शिमला में जगह-जगह गिरे पेड़, वाहनों को पहुंचा नुक्सान

punjabkesari.in Saturday, Feb 05, 2022 - 07:24 PM (IST)

शिमला (वंदना): शिमला में बर्फबारी के बाद पेड़ों के गिरने का सिलसिला शनिवार को भी जारी रहा। शहर में धड़ाधड़ पेड़ गिरे, जिससे तबाही मच गई है। पेड़ों के गिरने के चलते लोग डर के साये में जीने को मजबूर हो गए हैं। शनिवार को शिमला में करीब एक दर्जन पेड़ विभिन्न स्थानों पर गिरे। शहर के विकासनगर में हिमुडा कालोनी के पास सड़क किनारे पार्क वाहनों पर शनिवार सुबह पेड़ गिर गया, जिससे 2 गाड़ियां पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई हैं। गनीमत यह रही कि जिस समय पेड़ गिरा, उस वक्त गाड़ियों में कोई सवार नहीं था अन्यथा हादसे का मंजर कुछ और ही हाेता। पेड़ों के गिरने से सड़क मार्ग भी अवरुद्ध रहा है। लोगों ने प्रशासन को पेड़ों के गिरने की सूचना दी, जिसके बाद पेड़ों को हटाया गया। 
PunjabKesari, Tree Fell on Bus Image

इसके अलावा बाईपास रोड पर एक निजी बस पर भी पेड़ गिरने से बस को नुक्सान पहुंचा है और सड़क मार्ग अवरुद्ध रहा। सूचना मिलने के बाद प्रशासन ने पेड़ को हटाकर सड़क को यातायात के लिए बहाल कर दिया है। वहीं शहर के नाभा वार्ड में 4 पेड़ गिरे हैं। पेड़ों के बिजली लाइन पर गिरने से तारों को नुक्सान पहुंचा है, जिससे शहर में कई जगहों पर बिजली भी बाधित रही है। शनिवार को शिमला-कालका रेलवे ट्रैक पर जतोग के समीप भी 3 पेड़ गिरे हैं, वहीं बैनमोर वार्ड सहित शहर की अन्य जगहों पर पेड़ गिरे हैं। सूचना मिलने के बाद दिनभर पेड़ों को हटाकर सड़क और रास्तों को बहाल किया गया है। 
PunjabKesari, Tree Fell on Railway Track Image

बता दें कि बर्फबारी के दौरान पेड़ों के गिरने का खतरा अधिक बढ़ जाता है, ऐसे में लोग घरों के लिए खतरा बने पेड़ों को हटाने के लिए ट्री कमेटी के पास आवेदन करते हैं। कमेटी पेड़ों का निरीक्षण कर इन्हें खतरनाक घोषित कर मामला सरकार की मंजूरी के लिए भेजती है, जिसके बाद ही खतरनाक पेड़ों को हटाया जा सकता है।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Related News

Recommended News