रिश्वत के आरोपी एसएचओ से पांच घंटे पूछताछ, कहा- मैंने रिश्वत नहीं ली

punjabkesari.in Tuesday, Dec 28, 2021 - 11:48 AM (IST)

हमीरपुर : हमीरपुर में रिश्वत के आरोपी एसएचओ नीरज राणा सोमवार को विजिलेंस के सामने पेश हुए। इस दौरान आरोपी नीरज राणा से विजिलेंस की टीम ने करीब 5 घंटे तक पूछताछ की। इस दौरान नीरज राणा ने कहा कि उनके पास कोई रूपए नहीं है और उन्होंने रिश्वत के आरोपों को निराधार बताया है। इसके पूर्व विजिलेंस की टीम ने रिश्वत के 25 हजार रूपए केस प्रॉपर्टी के रूप में पेश करने के लिए नीरज राणा को कहा था। सूत्रों के अनुसार शिकायतकर्ता और एसएचओ के बीच रिश्वत को लेकर फोन पर हुई बातचीत का रिकॉर्ड विजिलेंस के पास उपलब्ध है। शिकायतकर्ता ने घूस की 25 हजार रुपये की रकम एसएचओ को दी थी, उसमें केमिकल लगा था। हर नोट का सीरियल नंबर रिकॉर्ड के रूप में विजिलेंस के पास है. बता दें कि 21 दिसंबर को विजिलेंस ने एसएचओ नीरज राणा के खिलाफ रिश्वत के आरोप में मामला दर्ज किया था। 

यह है मामला 

दुधारू पशुओं को मंडी से पठानकोट ले जाने की अनुमति देनेके लिए आरोपी एसएचओ ने शिकायकर्ता से 25 हजार रूपएकी रिश्वत मांगी थी। एसएचओ नादौन के लेबर चौक पर जब शिकायतकर्ता से रूपए ले रहा था तब विजिलेंस की टीम ने नीरज राणा को गिरफ्तार करने का प्रयास किया, लेकिन वह टीम पर गाड़ी चढ़ाने का प्रयास करते हुए मौके से फरार हो गया। इसके बाद आरोपी की गाड़ी टीम को मिल गई थी। गाड़ी की तलाशी लेने के दौरान विजिलेंस टीम को आरोपी की गाड़ी से 0.84 ग्राम चिट्टा भी मिला था।

कोर्ट से मिल चुकी है जमानत

तलाशी लेने के बाद फोरेंसिक की टीम ने गाड़ी के स्टीयरिंग और गियर लीवर पर एसएचओ की उंगलियों के निशान का मिलान नोटो पर लगे केमिकल से करने के लिए सैंपल भी लिए हैं। नीरज के खिलाफ भ्रष्टाचार उन्मूलन अधिनियम, हत्या के प्रयास और एनडीपीएस एक्ट में मामला दर्ज है। इन सब के बीच शुक्रवार को हाईकोर्ट ने आरोपी को 31 जनवरी तक अंतरिम अग्रिम जमानत दी। अब विजिलेंस 31 जनवरी को हाईकोर्ट में स्टेटस रिपोर्ट फाइल करेगी। विजिलेंस आरोपी को रिमांड पर लेने का प्रयास कर रही है।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

prashant sharma

Related News

Recommended News