युवक की संदिग्ध मौत का मामला : परिजनों ने लाडले का शव सड़क पर रखकर किया चक्का जाम

punjabkesari.in Sunday, May 08, 2022 - 12:35 AM (IST)

दौलतपुर चौक (रोहित): उपमंडल हरोली के कांगड़ बढेड़ा में स्थित एक नशामुक्ति केंद्र में गौंदपुर बनेहड़ा के युवक की संदिग्ध मौत पर ग्रामीणों ने शनिवार को सड़क पर शव रखकर चक्का जाम किया। शनिवार शाम को पोस्टमार्टम के बाद जैसे ही शव दाह संस्कार के लिए लाया गया तो परिजनों एवं गांववासियों ने गौंदपुर बनेहड़ा बाजार में शव को रखकर जाम लगा दिया और नारेबाजी कर आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग की। उन्होंने आरोपियों को फांसी देने की मांग भी की।एसडीएम विनय मोदी सहित डीएसपी अम्ब इलमा अफरोज सहित पुलिस अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर जनता को समझाकर जाम खुलवाने के प्रयास किए। परिजनों एवं ग्रामीणों ने आरोप जड़ा है कि प्रशासन द्वारा पोस्टमार्टम करवाने में देरी की गई जबकि मौत के 2 दिन बाद भी आरोपी खुले क्यों घूम रहे हैं और उन्हें गिरफ्तार क्यों नहीं किया गया? 

युवक के पूरे शरीर पर थे चोटों के निशान
गौरतलब है कि अमित कुमार (28) पुत्र राम कृष्ण वार्ड नंबर-5 गौंदपुर बनेहड़ा को परिजनों द्वारा 21 अप्रैल को उक्त नशामुक्ति केंद्र में भर्ती करवाया गया था। पिता राम कृष्ण का आरोप है कि वह 4 बार उससे मिलने उक्त केंद्र में गए लेकिन उन्हें व्यक्तिगत तौर पर मिलने नहीं दिया गया और मात्र सीसीटीवी स्क्रीन पर उसे दिखाया गया लेकिन गुरुवार रात लगभग डेढ़ बजे उन्हें फोन पर सूचना दी गई कि उनके बेटे को दिल का दौरा पड़ गया है। रात्रि 3 बजे युवक के शव को लेकर केंद्र संचालक उनके घर पर पहुंचे और परिजनों को सौंपकर चले गए जबकि उसके समूचे शरीर पर चोटों के निशान थे।

पीड़ित परिवार को जल्द दिलाया जाएगा न्याय : राजेश ठाकुर 
गगरेट के विधायक राजेश ठाकुर ने कहा कि वह इस दुख की घड़ी में परिवार के साथ हैं और अधिकारियों को उचित कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। युवा को न्याय दिलाया जाएगा। उन्होंने उच्च अधिकारियों से छानबीन करने को कहा है ताकि युवक को न्याय मिल सके।

कानून व्यवस्था का निकल चुका है जनाजा : राकेश कालिया
पूर्व विधायक राकेश कालिया ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था का जनाजा निकल चुका है। सत्ता के संरक्षण में नशा बिक रहा है परंतु प्रशासन हाथ बांधे खड़ा है। युवक को न्याय दिलाने के लिए परिवार के साथ हैं।

क्या कहते हैं पुलिस अधिकारी
डीएसपी अम्ब इलमा अफरोज ने कहा कि ग्रामीण शांति बनाए रखें। पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलते ही पुलिस अमित के परिजनों को न्याय दिलाएगी। वहीं एसडीएम गगरेट  विनय मोदी ने कहा कि पुलिस आरोपियों को डिटेन कर रही है और पोस्टमार्टम रिपोर्ट आते ही कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। लोग इस समय शांति रखें और प्रशासन का सहयोग करें।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Related News

Recommended News