2 मौतों के बाद भी संवेदनहीन बनी सरकार, गरीब परिवार की मदद को लोगों ने बढ़ाए हाथ

10/21/2019 6:08:59 PM

करसोग (धर्मवीर गौतम): करसोग में खनयोल बगड़ा के स्यानजली गांव में रंगड़ों के काटने से घर में हुई 2 मौतों के बाद भी भले ही सरकार ने नियमों का हवाला देते राहत राशि देने के लिए अपने हाथ खड़े कर दिए हों लेकिन यहां संस्था से जुड़े कुछ लोगों ने मसीहा बनकर इस गरीब परिवार की सहायता के लिए अपने हाथ आगे बढ़ाए हैं। एक ही घर से दो लाशें उठने के बाद भी सरकार में इतनी भी संवेदना नहीं जागी की दुखों के पहाड़ के नीचे दबे इस गरीब परिवार को सहायता के नाम पर कुछ राहत राशि जारी कर घर के लोगों का दर्द बांटे। करसोग प्रशासन ने तो सीधे ही रंगड़ों के काटने से हुई मौत पर किसी भी तरह की राहत राशि का प्रावधान न होने का हवाला देकर अपने हाथ ही खड़े कर दिए, ऐसे में करसोग का कैलोधार व्यापार मंडल और सपनोट के प्रगति महिला मंडल ने आगे बढ़कर इस गरीब परिवार का हाथ थाम कर उसके दुख को कुछ हल्का करने का प्रयास किया है।

मौत तो मौत है पर ये कैसा नियम

किसी भी तरह की दुर्घटना को लेकर सरकार के नियम लोगों की समझ से बाहर हैं। इसमे सांप के काटने या फिर जानवरों के कारण हुई मौत पर तो राहत राशि देने का प्रावधान है। इसी तरह से मोटर व्हीकल एक्ट के तहत दुर्घटना में हुई मौत और पेड़ या फिर ढांक से गिरकर हुई मौत पर भी परिवार के सदस्यों को सरकार की ओर से राहत दी जाती है लेकिन रंगड़ों के काटने पर हुई मौत के लिए राहत राशि का कोई भी प्रावधान नहीं है। इसके लिए नियमों का हवाला दिया जाता है। गांव में घास और फसल कटाई के दौरान सबसे अधिक मामले रंगड़ों के काटने से हुई मौत के सामने आ रहे हैं। करसोग में ही कई लोगों की रंगड़ों के काटने से मौतें हुई हैं, ऐसे में किसी दुर्घटना के कारण हुई मौत को लेकर बने सरकारी नियमों को लेकर लोगों ने भी सवाल उठाने शुरू कर दिए हैं।

व्यापार मंडल करेगा परिवार की सहायता : हेमराज शर्मा

व्यापार मंडल कैलोधार के हेमराज शर्मा का कहना है कि व्यापार मंडल इस दुख की घड़ी में परिवार के साथ है। इसके लिए सभी व्यापारी पैसा एकत्रित कर रहे हैं। ताकि शोक संतप्त परिवार की जरूरत के वक्त सहायता की जा सके।

महिला मंडल की सभी सदस्यों ने जमा किए 1100 रुपए : प्रीति शर्मा

प्रगति महिला मंडल का कहना कि दो मौतों से परिवार कठिन दौर से गुजर रहा है। इसको देखते हुए प्रगति महिला मंडल सपनोट को सभी सदस्यों ने अपनी बजत से 100-100 रुपए एकत्रित कर 1100 रुपए की राशि जुताई है। इस पैसे को अब शोक संतप्त परिवार को राहत के तौर पर दिया जाएगा।


Vijay

Related News