ड्यूटी पर कोताही बरतने पर 9 पुलिस कर्मी निलंबित

4/19/2021 9:47:44 PM

नाहन: पुलिस यदि सजग रहेगी तो आरोपियों को भी खौफ रहता है। इसी को जांचने के लिए रविवार देर रात को एस.पी. सिरमौर डा. के.सी. शर्मा अपनी टीम के साथ हरियाणा-हिमाचल सीमा पर स्थित कालाअंब पुलिस थाना में अचानक जा पहुंचे। उनकी अचानक हुई कार्रवाई से थाने में हड़कंप मच गया। उन्होंने इस दौरान ए.एस.पी. सिरमौर बबीता राणा, डी.एस.पी. हैडक्वार्टर परमदेव व एस.डी.पी.ओ. संगड़ाह शक्ति सिंह के साथ खैरी, सुकैती, माजरी व टोका साहिब इत्यादि क्षेत्रों में अवैध खनन एवं अन्य आपराधिक गतिविधियों पर नाके लगाए और जांच की। इस दौरान अवैध खननकारियों में भी अफरा-तफरी मच गई।

एस.पी. ने बताया कि नाकाबंदी के बाद पुलिस थाना कालाअंब में औचक निरीक्षण किया गया। उन्होंने बताया कि औचक निरीक्षण के दौरान मौके पर आधा दर्जन के करीब पुलिस कर्मी गैरहाजिर मिले जिसके बाद उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित कर लाइन हाजिर कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि कालाअंब क्षेत्र औद्योगिक होने एवं हरियाणा के साथ सीमा लगने के चलते संवेदनशील रहता है। किसी आपराधिक घटना के होने की दशा में अपराधियों की तुरंत धरपकड़ के लिए पुलिस थाना कालाअंब द्वारा नाकाबंदी करने की आवश्यकता होती है ताकि अपराधी जिला की सीमाओं से बाहर न जा सकें। हरियाणा राज्य की सीमा के साथ होने के कारण इस थाना में तैनात पुलिस कर्मियों की ड्यूटी पर उपस्थिति और भी अधिक महत्वपूर्ण हो जाती है लेकिन यहां एक सहायक उपनिरीक्षक, एक मुख्य आरक्षी एवं 4 आरक्षियों को तुरंत प्रभाव से निलंबित कर लाइन हाजिर कर दिया है।

एस.पी. ने बताया कि कालाअंब के बाद जिला मुख्यालय नाहन में तैनात सुरक्षा गार्दों का भी निरीक्षण किया और निरीक्षण के दौरान सुरक्षा गार्द, पुलिस लाइन नाहन के प्रभारी गार्द (मुख्य आरक्षी) एवं 2 आरक्षी गार्द कक्ष में अपनी ड्यूटी से अनुपस्थित पाए गए जिस पर तीनों पुलिस कर्मियों को अपनी ड्यूटी में लापरवाही बरतने के कारण तुरंत प्रभाव से निलंबित कर लाइन हाजिर कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि पुलिस कर्मियों द्वारा बरती जा रही कोताही को किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सभी कर्मी अपनी ड्यूटी को ईमानदारी से करें ताकि आपराधिक घटनाओं में कमी आ सके।

कोविड सैंटर से कैदी फरार होने के मामले में बिठाई जांच
उधर, एस.पी. सिरमौर ने हाल ही में माजरा पुलिस थाना के तहत साढ़े 8 क्विंटल चूरा-पोस्त मामले में गिरफ्तार किए गए 2 आरोपियों रविन्द्र कुमार एवं रवि कुमार के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद कोविड सैंटर सराहां से फरार होने के मामले में ड्यूटी पर तैनात पुलिस कर्मियोंं पर भी जांच बिठा दी है। एस.पी. ने बताया कि आरोपियों को संक्रमित पाए जाने के बाद कोविड सैंटर सराहां में शिफ्ट किया गया था और यहां आरोपियों की सुरक्षा गार्द में एक एच.ए.एस.आई. व 4 आरक्षियों को ड्यूटी पर तैनात किया गया था लेकिन यहां से आरोपी मौके से फरार हो गए थे जिन्हें हालांकि समय रहते पुलिस ने पुन: दबोच लिया था लेकिन फरार होने के मामले में ड्यूटी पर तैनात 5 पुलिस कर्मियोंं पर जांच के आदेश दिए गए हैं। उन्होंने बताया कि उक्त मामले में एस.डी.पी.ओ. पांवटा साहिब को जांच अधिकारी नियुक्त किया गया है। जांच रिपोर्ट मिलने के बाद आगामी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

एस.पी. ने सभी उच्च अधिकारियों को आदेश जारी करते हुए कहा है कि अधीनस्थ पुलिस कर्मचारियों की सुविधाओं एवं कल्याण का पूरा ध्यान रखा जाए और यदि कोई पुलिस कर्मचारी ड्यूटी में लापरवाही करता हुआ पाया जाता है तो ऐसे पुलिस कर्मचारियों को किसी भी सूरत में बख्शा न जाए और ऐसे पुलिस कर्मचारियों के विरुद्ध कड़ी अनुशासनात्मक विभागीय कार्रवाई भी की जाए।


Content Writer

Kuldeep

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static