गोरखूवाला में सजा जनमंच, पांवटा साहिब-शिलाई NH का मुद्दा छाया

punjabkesari.in Sunday, Feb 14, 2021 - 08:55 PM (IST)

पांवटा साहिब (ब्यूरो): उपमंडल पांवटा साहिब के गोरखूवाला पंचायत में रविवार को जनमंच आयोजित किया गया। कार्यक्रम में विधानसभा के उपाध्यक्ष हंसराज ने लोगों की समस्याओं को सुना। जनमंच में 21 समस्याएं आईं, जिनमें से अधिकतर समस्याओं का मौके पर ही निपटारा किया गया। हंसराज ने कहा कि जल जीवन मिशन योजना में हर घर को नल से जोड़ा जाएगा। सरकार हर गांव को सड़क सुविधा से जोडऩे का प्रयास कर रही है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि लोगों की समस्याओं को प्रमुखता से लें और लोगों को गुमराह न करें। उन्होंने कहा कि कृषि कानून से किसानों को कोई नुक्सान नहीं है। जनमंच में पांवटा साहिब-शिलाई नैशनल हाईवे-707 की खस्ताहाल मुख्य मुद्दा रहा। भंगानी पंचायत के संजय कुमार ने घर के ऊपर गुजर रही बिजली लाइन का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि कई जगह पर लोगों के घरों के ऊपर बिजली की लाइन गुजर रही है। इससे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है।
PunjabKesari, Janmanch Program Image

पांवटा साहिब से किलोड़ के लिए चले बस

भंगानी पंचायत के उपप्रधान सुरजीत सिंह ने पांवटा साहिब से किलोड़ के लिए परिवहन निगम की बस चलाने की मांग उठाई। उन्होंने कहा कि पहले पांवटा साहिब से किलोड़ तक परिवहन निगम की बस चलती थी जिसका लाभ दर्जनों पंचायतों के विद्यार्थियों को होता था लेकिन 8 वर्षों से परिवहन विभाग ने बस के रूट को बंद कर दिया है। इस दौरान जम्बू खाला गांव के लोगों ने भूमिहीन परिवारों को जमीन उपलब्ध करवाने का मामला उठाया। विधानसभा उपाध्यक्ष ने संबोधित विभाग के अधिकारियों को समस्याओं को निपटाने के निर्देश दिए।

दिव्यांग ने मकान बनाने की लगाई गुहार

जनमंच में फूलपुर पंचायत के 43 वर्षीय दिव्यांग विक्की सिंह ने मकान बनाने के लिए गुहार लगाई। उसने बताया कि वह काम करते समय पेड़ से गिर गया था जिससे उसकी रीड़ की हड्डी टूट गई है। उसके 2 छोटे बेटे हैं तथा पत्नी का बीमारी के कारण निधन हो गया है। उसके पास रहने के लिए मकान नहीं है। वह किराए के कमरे में रहने को मजबूर है। उन्होंने प्रशासन से मकान बनाने की गुहार लगाई है।

महिला ने रोते हुए सुनाया दुखड़ा

सालवाला पंचायत की महिला ने मंच पर रोते हुए अपना दुखड़ विधानसभा उपाध्यक्ष को सुनाया। महिला ने कहा कि कुछ साल पहले उसके इकलौते बेटे का सड़क हादसे में निधन हो गया था। आज तक सरकार की तरफ से कोई आर्थिक सहायता नहीं मिल पाई है। विधानसभा उपाध्यक्ष ने तुरंत डीसी सिरमौर को आर्थिक सहायता प्रदान करने के निर्देश दिए।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Related News

Recommended News