लंका दहन के साथ अंतर्राष्ट्रीय कुल्लू दशहरा उत्सव सम्पन्न

10/21/2021 6:35:39 PM

कुल्लू (ब्यूरो/दिलीप): लंका दहन की रस्म के साथ कुल्लू में अंतर्राष्ट्रीय दशहरा उत्सव का समापन हो गया। अधिष्ठाता रघुनाथ जी की रथयात्रा में हजारों लोगों ने शिरकत की। भव्य रथ की डोर को स्पर्श करने के लिए हजारों हाथ एक साथ आगे बढ़े। रघुनाथ जी की रथयात्रा के दर्शन करके और रथ की डोर को स्पर्श करके लोगों ने पुण्य कमाया। लंकाबेकर में देव कार्रवाई के उपरांत लंका दहन के प्रतीक के तौर पर लोगों ने झाड़ियां जलाईं।
PunjabKesari, Kullu Dussehra Festival Image

जय श्रीराम के उद्घोष से गूंजा ढालपुर मैदान

वीरवार को दोपहर बाद देवी-देवताओं का रघुनाथ जी के अस्थायी शिविर के पास पहुंचना शुरू हो गया। इस दौरान देवी-देवताओं और लोगों की आमद से मैदान भर गया। ठीक 3.40 बजे रघुनाथ जी के अस्थायी शिविर के पास से रघुनाथ जी की रथयात्रा शुरू हुई। देवी-देवताओं की मौजूदगी में हजारों लोग रथ के आगे और पीछे चले। जय श्रीराम के उद्घोष से समूचा ढालपुर मैदान गूंजता रहा। कड़े सुरक्षा घेरे में निकली रथयात्रा कैटल मैदान पहुंची। इस दौरान रघुनाथ जी के छड़ीबरदार महेश्वर सिंह, राज परिवार के अन्य सदस्य व कुछ देव कारकून लंकाबेकर गए और लंका दहन की रस्म को निभाया।
PunjabKesari, Kullu Dussehra Festival Image

देवी हिडिम्बा की निगरानी में निभाई गई लंका दहन की रस्म

देवी हिडिम्बा सबसे आगे कैटल मैदान के कोने पर लंकाबेकर की तरफ अपनी दृष्टि बनाकर मौजूद रहीं और उधर लंका दहन की रस्म निभाई जाती रही। जब रघुनाथ जी के छड़ीबरदार महेश्वर सिंह व अन्य देव कारकून कैटल मैदान पहुंचे तो इसी बीच पालकी में सीता जी को कैटल मैदान लाया गया। सीता जी को उसके उपरांत श्रीराम और लखन संग बैठाकर रथ को वापस मोड़ा गया। जय श्रीराम के उद्घोष के बीच हजारों लोगों ने रथ को वापस रथ मैदान पहुंचाया। रथ मैदान में उत्सव में आए देवी-देवताओं से विदा लेकर रघुनाथ जी सिया और लखन सहित पालकी में सवार होकर रघुनाथपुर लौट गए।
PunjabKesari, Kullu Dussehra Festival Image

500 से अधिक पुलिस कर्मी रहे सुरक्षा में मौजूद

सुरक्षा के मद्देनजर एसपी गुरदेव शर्मा 500 से अधिक पुलिस अधिकारियों, जवानों के साथ मौजूद रहे। डीसी आशुतोष गर्ग ने बताया कि रथयात्रा के साथ अंतर्राष्ट्रीय स्तर के दशहरा उत्सव का समापन हो गया। उन्होंने कहा कि उत्सव के समापन के साथ इसमें आए देवी-देवता भी अपने देवालयों को लौट गए। रथयात्रा में रघुनाथ जी के कारदार दानवेंद्र सिंह, हितेश्वर सिंह, आदित्य विक्रम सिंह, एडीसी शिवम प्रताप सिंह, एएसपी सागर चंद्र, एसडीएम विकास शुक्ला सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Related News

Recommended News