हिमाचल में बदलेगा राज या रिवाज, फैसला आज

punjabkesari.in Thursday, Dec 08, 2022 - 12:00 AM (IST)

शिमला (भूपिन्द्र): हिमाचल प्रदेश में आखिरकार फैसले का दिन आ ही गया। 26 दिन के इंतजार के बाद विधानसभा चुनाव मैदान में उतरे 412 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला वीरवार यानि 8 दिसम्बर को होगा। मतों की गणना वीरवार सुबह 8 बजे शुरू होगी तथा दोपहर तक स्थिति साफ हो जाएगी कि राज्य में किसकी सरकार बन रही है। मतगणना की प्रक्रिया के तहत पहले सुबह 8 से साढ़े 8 बजे तक पोस्टल बैलेट की गणना की जाएगी। साढ़े 8 बजे ईवीएम के वोटों की गिनती शुरू होगी। उसके बाद पोस्टल व ईवीएम से वोटों की गणना एक साथ चलेगी। प्रदेश में मतगणना वाले दिन ड्राई-डे रहेगा। यानि मतगणना के दौरान शराब की दुकानें बंद रहेंगी। मुख्य निर्वाचन अधिकारी मनीष गर्ग ने कहा कि अभी तक 42 लाख रुपए से अधिक मतदाता मतदान कर चुके हैं। असल मतदान प्रतिशत मतगणना के बाद ही पता चलेगा। हिमाचल प्रदेश में राज बदलेगा या रिवाज, इसका फैसला वीरवार को होगा। इस बाद सत्ताधारी भाजपा नेताओं ने प्रदेश में उत्तराखंड व यूपी की तर्ज पर रिवाज बदलने का दावा किया है। पार्टी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चेहरे पर चुनाव लड़ा, जबकि विपक्षी दल कांग्रेस राज बदलने का दावा कर रही है। कांग्रेसी नेताओं ने ओपीएस व महंगाई आदि मुद्दों पर चुनाव लड़ा तथा प्रदेश में पिछले कई सालों से हर 5 साल बाद सरकार बदलने की परंपरा को कायम रखने की बात कही है। 

वर्ष 2017 की अपेक्षा इस बार प्राप्त हुए 17 फीसदी अधिक डाक मत पत्र : गर्ग
मुख्य निर्वाचन अधिकारी मनीष गर्ग ने आज यहां बताया कि चुनाव ड्यूटी पर तैनात कर्मचारियों को जारी किए डाक मतपत्रों में से 52859 डाक मतपत्र (87 प्रतिशत) प्रदेश के सभी रिटॄनग अधिकारियों के पास पहुंच गए हैं। उन्होंने बताया कि पिछले विधानसभा चुनावों की तुलना में 2022 के विधानसभा चुनावों में चुनाव ड्यूटी पर तैनात कर्मियों को जारी किए गए डाक मतपत्रों में 11 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है। इसके अलावा अब तक अनिवार्य सेवा वाले मतदाताओं से 38207 और सेवा मतदाताओं से 21768 डाक मतपत्र प्राप्त हुए हैं, जिससे कुल डाक मतपत्रों की संख्या 112834 हो गई है।

मतगणना केंद्रों के क्षेत्र में धारा-144
मतगणना केंद्रों के सीमित दायरे में वीरवार को धारा-144 लगाई गई है। इससे संबंधित आदेश निर्वाचन आयोग ने जिला प्रशासनों को जारी किए हैं। मुख्य निर्वाचन अधिकारी मनीष गर्ग ने बताया कि  मतगणना की पूरी प्रक्रिया के लिए पहला रेंडमाइजेशन पहली दिसम्बर को, दूसरी रेंडमाइजेशन 6 दिसम्बर को व तीसरी 8 दिसम्बर को मतगणना आरंभ होने से पहले की जाएगी। उन्होंने कहा कि लाहौल-स्पीति विधानसभा क्षेत्र की मतगणना भुंतर में, भरमौर विधानसभा क्षेत्र की मतगणना चम्बा में, जबकि किन्नौर विधानसभा क्षेत्र की मतगणना रिकांगपिओ में होगी।  

100 मीटर के दायरे में किसी को आने की अनुमति नहीं
मतगणना केंद्र के 100 मीटर के दायरे में किसी भी व्यक्ति को आने-जाने की अनुमति नहीं होगी। 3 चक्रिय सुरक्षा घेरे में मतगणना की जाएगी। मतगणना केंद्र में प्रवेश के बाद किसी भी काऊंटिंग एजैंट को बाहर आने की अनुमति नहीं होगी। विशेष परिस्थितियों में ही काऊंटिंग एजैंट बाहर आ सकेंगे। मतगणना टेबल पर बैठने का बंदोबस्त करने का जिम्मा निर्वाचन आयोग के पर्यवेक्षकों (ऑब्जर्वरों) का होगा। पर्यवेक्षक ही यह तय करेंगे कि कौन से मतगणना टेबल पर कौन कर्मी बैठेगा।

इनकी प्रतिष्ठा दांव पर 
हिमाचल में सत्ताधारी दल भाजपा व विपक्षी दल कांग्रेस के कई नेताओं की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है। सत्ताधारी दल में सी.एम. जयराम ठाकुर, पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा व केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर सहित सभी मंत्रियों की प्रतिष्ठा दांव पर है। इसी तरह कांग्रेस में नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री, प्रचार कमेटी के अध्यक्ष सुखविंदर सिंह सुक्खू, आशा कुमारी, कौल सिंह ठाकुर, राजेंद्र राणा व रामलाल ठाकुर प्रमुख हैं।

ऐसे मिलेगी परिणाम की जानकारी
हिमाचल प्रदेश में लोग घर बैठे ही चुनाव परिणाम की जानकारी हासिल कर सकेंगे। वे अपने मोबाइल पर या फिर कम्प्यूटर पर हर पल की अपडेट प्राप्त कर सकेंगे। इसके लिए उन्हें मोबाइल पर वोटर हैल्पलाइन एप डाऊनलोड करनी होगी या फिर result.eci.gov.in पर भी देख सकेंगे। मतगणना के हर राऊंड की जानकारी लोगों को इन पर मिलेगी। इसके अलावा शिमला के रिज मैदान पर रिजल्ट के लिए बड़ी स्क्रीन भी लगाई गई है। 

आज बारिश-बर्फबारी की संभावना
हिमाचल प्रदेश में मौसम विभाग ने आगामी 3 दिन यानी 8 से 10 दिसम्बर तक राज्य के पर्वतीय क्षेत्रों में बर्फबारी की संभावना जताई है। इससे प्रदेश में वीरवार को जीतने वाले प्रत्याशियों के जश्न में खलल पड़ सकता है। मौसम विभाग द्वारा जारी पूर्वानुमान के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता से 8 से 10 दिसम्बर तक प्रदेश में मौसम करवट लेगा। इस दौरान राज्य के पहाड़ी इलाकों लाहौल-स्पीति, किन्नौर, कुल्लू, चम्बा, शिमला व सिरमौर जिलों के ऊपरी क्षेत्रों में बर्फबारी होगी, जबकि मैदानी इलाकों हमीरपुर, बिलासपुर व ऊना में सुबह-शाम के समय धुंध का असर जारी रहेगा। 

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here
  


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Related News

Recommended News