हरियाणा की तर्ज पर जेलों में शुरू की जाएगी हर्बल खेती

punjabkesari.in Wednesday, Feb 03, 2021 - 12:07 PM (IST)

धर्मशाला (तनुज): प्रदेश की जेलों की क्षमता को बढ़ाने के लिए इन्हें दो मंजिला किया जाएगा। जेलों में बढ़ती कैदियों की संख्या को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है। कैदियों को जेलों में मैट्रेस भी उपलब्ध करवाए जाएंगें। देशभर में हिमाचल कैदियों को मैट्रेस उपलब्ध करवाने वाला पहला राज्य बनेगा। साथ ही हरियाणा की तर्ज पर हिमाचल की जेलों में भी हर्बल खेती शुरू की जाएगी।
लाला लाजपतराय जिला एवं मुक्त सुधार गृह में पहुंचे डीजीपी जेल सुमेश गोयल ने कहा कि प्रदेश की जेलों में विचाराधीन कैदियों की संख्या लगातार बढ़ रही है। जिसके चलते जेलों में कैदियों को रखने की व्यवस्था करने के लिए सभी जेलों को दो मंजिला बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि इससे आर्थिक तौर पर भी सरकार को फायदा होगा और कैदियों को रखने की समस्या भी दूर होगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जेलों में शुरू किए गए हर हाथ को कम योजना के तहत पिछले वित्तीय वर्ष में कैदियों को डेढ़ करोड़ रुपये वेतन के रूप में दिया गया।
वहीं, जेल की सालाना टर्नओवर 5 करोड़ के करीब रही। डीजीपी जेल ने कहा कि प्रदेश के कुल्लू, मंडी, रामपुर, किन्नौर और नालागढ़ में नई जेलों का निर्माण किया जा रहा है, क्योंकि इन जिलों की जेलों की दशा ठीक नहीं थी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में टोफू प्रोडक्ट भी तैयार करने को लेकर योजना बनाई गई है। इसके तहत धर्मशाला जेल में इस यूनिट को स्थापित करने के लिए मशीनें खरीदी गई हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जेलों में रेडियो स्टेशन को शुरू किया गया है। हिमाचल की जेलों के इस मॉडल को उत्तर प्रदेश, पंजाब और हरियाणा की जेलों ने भी अपनाया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Rajneesh Himalian

Related News

Recommended News