कुमारसैन व करेवथी में भयंकर ओलावृष्टि, सेब की फसल को नुक्सान

5/15/2021 10:20:45 PM

कुमारसैन (सोनी): हिमाचल प्रदेश में सेब उत्पादन में अग्रणी जिला शिमला के ऊपरी क्षेत्रों में लगाता ओलावृष्टि से बागवानों को नुक्सान हो रहा है। पिछले दो सप्ताह से लगातार ओलावृष्टि ने बागवानों की कमर तोड़ कर रख दी है, जिस कारण बागवानों को अच्छा खासा नुक्सान झेलना पड़ रहा है। शनिवार को भी जिला शिमला की सेब बेल्ट कुमारसैन व करेवथी शाम करीब 6 बजे भयंकर ओलावृष्टि हुई। करीब 15 मिनट तक लगातार ओले बरसते रहे और सेब बगीचों में फलों और पौधों को भारी नुक्सान हुआ।

ग्राम पंचायत करेवथी के प्रधान विनोद कंवर ने बताया कि करेवथी पंचायत में शनिवार को भयंकर ओलावृष्टि हुई, जिससे बागवानों को बहुत नुक्सान हुआ है। उन्होंने सरकार से आग्रह किया कि ओलावृष्टि से हुए नुक्सान का आंकलन कर बागवानों को उचित मुआवजा दिया जाए। इससे पूर्व बुधवार को भी कुमारसैन उपमंडल के छबीशी, कोटगढ़ व कुमारसैन की कई पंचायतों में करीब आधा घंटा तक ओलावृष्टि होती रही, जिस कारण  से बागवानों की तैयार हो चुकी चेरी की फसल पूरी तरह से बर्बाद हो गई जबकि सेब व नाशपती की फसल को भी ओलावृष्टि से अच्छा खासा नुक्सान पहुंचा है।

क्षेत्र के बागवानों ने सरकार से आग्रह किया है कि ओलावृष्टि से हुए नुक्सान का शीघ्र आकलन किया जाए और ओलावृष्टि से प्रभावित बागवानों को उचित मुआवजा दिया जाए। गौरतलब है पिछले दो सप्ताह से ऊपरी शिमला में बागवानों को कभी बर्फबारी से तो कभी ओलावृष्टि से नुक्सान पहुंचा है, ऐसे में बागवानों ने सरकार से गुहार लगाई है कि उन्हें नुक्सान का शीघ्र मुआवजा दिया जाए।


Content Writer

Vijay

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static