‘ज्योति के लिए इंसाफ चाहिए’ के नारों से गूंजी गांधी वाटिका

9/14/2021 10:42:11 PM

जोगिंद्रनगर (अमिता बंटा): भराडू पंचायत के गडूही गांव की विवाहिता ज्योति मामले की जांच तेज करने, घटनाक्रम की पूरी सच्चाई सामने लाने, दोषियों को कानूनी शिकंजे में लेकर सजा दिलाने की मांग को लेकर किसान नेता एवं जिला परिषद सदस्य कुशाल भारद्वाज के नेतृत्व में पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार शहर की गांधी वाटिका में विशाल शोक सभा आयोजित की गई। इस प्रदर्शन में बड़ी संख्या में लोगों ने हिस्सा लिया। अधिकतर लोग सुबह 10 बजे से ही गांधी वाटिका में एकत्रित होना शुरू हो गए तथा एक बड़ा जुलूस ज्योति के परिजनों, रिश्तेदारों, गांववासियों तथा गलू व गुम्मा क्षेत्र के किसान सभा कार्यकर्ताओं का हराबाग की ओर से गांधी वाटिका पहुंचा।
PunjabKesari, Condolence Meet Image

बेटी के फोटो को सीने से लगाकर फूट-फूट कर रोई मां

गांधी वाटिका पहुंचने पर ज्योति की मां उसके फोटो को अपने सीने से लगाकर फूट-फूट कर रोई व बेसुध हो गई। ज्योति के लिए इंसाफ चाहिए के नारों के साथ गांधी वाटिका गूंज उठी।  इस अवसर पर ज्योति के पिता, भाई व अन्य के अलावा अगस्त माह में आत्महत्या करने वाली भौरा गांव की 17 वर्षीय युवती के माता-पिता भी उपस्थित रहे। प्रदर्शन में बड़ी संख्या में पूर्व सैनिक, किसान, महिलाएं, युवा तथा छात्राएं शामिल रहे।
PunjabKesari, Condolence Meet Image

फोरैंसिक रिपोर्ट आने के बाद होगी अगली कार्रवाई : एसपी

उधर, जोगिंद्रनगर पुलिस थाना में एसपी मंडी शालिनी अग्निहोत्री ने पत्रकारों को बताया कि अभी हम कार्रवाई कर रहे हैं व आसपास के लोगों के बयान भी लिए जा रहे हैं। जैसा कि विदित है ये मामला अब सीआईडी की क्राइम ब्रांच टीम को दे दिया है व एक एसआईटी का गठन किया गया है। फोरैसिंक रिपोर्ट आने के बाद अगली कार्रवाई की जाएगी।
PunjabKesari, Condolence Meet Image

इंसाफ के लिए आखिरी सांस तक लड़ेंगे : कुशाल

कुशाल भारद्वाज ने कहा कि केस की छानबीन में उलझी पुलिस को हम कानून व्यवस्था अपने हाथ में लेकर और नहीं उलझाना चाहते हैं। हमें सिर्फ इंसाफ चाहिए और उसके लिए हम आखिरी सांस तक लड़ेंगे।

सच्चाई सामने लाने के लिए जांच प्रक्रिया की जाए तेज

ज्योति को न्याय दिलाने की मांग पर गांधी वाटिका में उपस्थित हजारों लोगों ने सर्वसम्मति से ज्योति को न्याय दिलाने तथा दोषियों को कानूनन सजा दिलाने की मांग बारे प्रस्ताव पारित किया, जिसमें कहा गया कि हमारे पिछले जनप्रदर्शन के दौरान 26 अगस्त को प्रदेश के मुख्यमंत्री व प्रदेश पुलिस महानिदेशक को सौंपे गए ज्ञापन के आधार पर इस केस की जांच का जिम्मा देर से ही सही लेकिन अब सीआईडी को सौंपा गया है जिसका हम स्वागत करते हैं। ज्योति मामले की पूरी सच्चाई सामने लाने के लिए जांच प्रक्रिया को तेज किया जाए। जब तक फोरैंसिक जांच रिपोर्ट नहीं आती है तथा साइंटिफिक एविडैंस जब तक नहीं मिलते तब तक अन्य जांच प्रक्रिया के माध्यम से भी साक्ष्य जुटाए जाएं।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Recommended News

static