शहीद अंचित कुमार सैन्य सम्मान के साथ पंचतत्व में विलीन, अंतिम विदाई देने उमड़ा जनसैलाब

11/28/2020 7:32:14 PM

राजगढ़ (गोपाल): मात्र 22 साल की उम्र में शहादत पाने वाले सिरमौर जिला के राजगढ़ उपमंडल के घार पजेरा गांव के अंचित कुमार की पार्थिव देह शनिवार को पैतृक गांव पहुंची, जहां पूरे सैन्य सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया। अंचित की शव यात्रा में हजारों लोगों ने भाग लिया। बता दें कि गत 24 नवम्बर को अंचित कुमार अरूणाचल मे एलएसी पर वीर गति को प्राप्त हो गए थे।
PunjabKesari, Martyr Funeral Image

अंचित की पार्थिव देह अरुणाचल के डिबलू गढ़ से हवाई मार्ग से दिल्ली व फिर दिल्ली से चडीगढ़ मंदिर पहुंची। सुबह चंडी मंदिर से सड़क मार्ग से सोलन होते हुए राजगढ़ लाया गया। राजगढ़ पहुंचने पर लोगों ने फूल बरसा कर उन्हें अंतिम श्रद्धांजलि दी। जैसे ही अंचित की पार्थिव देह राजगढ़ पहुंची तो पूरा शहर ‘‘वंदे मातरम् व अंचित शर्मा अमर रहे’’ के नारों से गूंज उठा। उनके पैतृक गांव धार पजेरा में भी हजारों लोग उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए पहुंचे थे।
PunjabKesari, Tribute Image

यहां पूर्व सैनिक वैल्फैयर बोड के उप निदेशक मेजर दीपक धवन, सांसद सुरेश कश्यप, विधायक रीना कश्यप, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष जीआर मुसाफिर, एसडीएम राजगढ़ नरेश वर्मा, उप पुलिस अधीक्षक भीष्म ठाकुर सहित हजारों लोगों ने उनकी अंतिम यात्रा में भाग लिया। इससे पहले सेना व पुलिस जवानों ने शहीद को सलामी दी।
PunjabKesari, Tribute Image

अंचित कुमार मात्र एक साल पहले ही 21 डोगरा रेजीमैंट में भर्ती हुए थे। उन्हेें बचपन से ही सैनिक बनने का शौक था। वह गत 24 अक्तूबर को ही छुट्टी काट कर वापस ड्यूटी पर जाते समय दादा-दादी, माता-पिता व बहन से जल्द घर आने का वायदा करके गए थे।
PunjabKesari, Martyr Funeral Image


Vijay

Recommended News