मनाली के बुरुआ गांव में भीषण अग्निकांड, काष्ठकुणी शैली में बना मकान जलकर राख

punjabkesari.in Sunday, Dec 04, 2022 - 12:15 AM (IST)

पतलीकूहल (ब्यूरो): मनाली की ऊझी घाटी के बुरुआ गांव में आग लगने की घटना में भारी नुक्सान हुआ है। आग की घटना में काष्ठकुणी शैली में बना मकान जलकर राख हो गया। आग से करीब 50 लाख के नुक्सान की आशंका जताई जा रही है, वहीं साथ लगते मकान को भी करीब 2 लाख रुपए का नुक्सान हुआ है। बुरुआ गांव के खेमराज, टेडी सिंह और उत्तम चंद के सांझे मकान में शनिवार शाम को अचानक आग लग गई, जिसने देखते ही देखते काष्ठकुणी शैली में बने पूरे मकान को अपनी चपेट में ले लिया, वहीं साथ लगते प्रीतम चंद के मकान में भी आग फैल गई। हालांकि, ग्रामीणों ने प्रीतम चंद के मकान में लगी आग पर काबू पा लिया। 

अग्निकांड की घटना के दौरान परिवार के सभी सदस्य बगीचे में काम करने गए थे, उन्हें ग्रामीणों ने फोन करके आग लगने की जानकारी दी, साथ ही इसकी सूचना अग्निशमन विभाग को भी दी। अग्निशमन केंद्र मनाली से दमकल वाहन सहित टीम मौके पर पहुंची और आग बुझाने के प्रयास शुरू किए। अग्निशमन कर्मियों ने ग्रामीणों की मदद से कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया लेकिन तब तक काफी नुक्सान हो चुका था। अग्निकांड में 3 परिवार के 19 सदस्य बेघर हो गए हैं। पंचायत प्रधान चूड़ामणि ने बताया कि आग इतनी भयंकर थी कि घर में रखा कुछ भी सामान नहीं बचाया जा सका। हालांकि निचली मंजिल में बंधी गाय को बचा लिया गया। लीडिंग फायरमैन हेमराज ने बताया कि इस घटना में करीब 50 लाख की संपत्ति जलकर राख हो गई जबकि साथ लगते प्रीतम चंद के मकान को भी करीब 2 लाख का नुक्सान हुआ है।

हिमाचल की खबरें Twitter पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here
अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Related News

Recommended News