CM ने स्पीति को दी करोड़ों की सौगात, जनजातीय व शीतकालीन भत्ते में 200 रुपए की वृद्धि का ऐलान

7/28/2021 12:04:22 AM

शिमला (ब्यूरो): मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने जनजातीय व शीतकालीन भत्ते में 200 रुपए बढ़ौतरी करने की घोषणा की है। इसके तहत जनजातीय क्षेत्रों में सेवाएं देने वाले कर्मचारियों के जनजातीय भत्ते को 450 रुपए से 650 रुपए और शीतकालीन भत्ते को 300 रुपए से बढ़ाकर 500 रुपए किया जाएगा। उन्होंने कीमो में स्वास्थ्य उपकेंद्र खोलने, काजा में अग्निशमन उपकेंद्र खोलने और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र काजा को नागरिक अस्पताल में स्तरोन्नत करने की घोषणा भी की। जयराम ठाकुर ने यह घोषणा स्पीति घाटी में 146 करोड़ रुपए के 19 विकासात्मक परियोजनाओं का वर्चुअल लोकार्पण व शिलान्यास करने के अवसर पर कही। मुख्यमंत्री पहले इसके लिए काजा जाने वाले थे लेकिन खराब मौसम के कारण नहीं जा पाए।

हुल में 48 लाख रुपए की लागत से बना हैलीपैड लोकार्पित

उन्होंने जिन 14.52 करोड़ रुपए की विकासात्मक परियोजनाओं का लोकार्पण किया, उसमें हुल में 48 लाख रुपए की लागत के हैलीपैड, ताबो में 74 लाख रुपए की लागत के संग्रहालय एवं पुस्तकालय, किब्बर में 80 लाख रुपए की लागत के सामुदायिक भवन, की में 1.86 करोड़ रुपए की लागत के संग्रहालय एवं पुस्तकालय, काजा में 1.82 करोड़ रुपए की उठाऊ जलापूर्ति परियोजना के संवद्र्धन और ग्राम पंचायत काजा में शिल्ला नाला से 8.82 करोड़ रुपए लागत की सूक्ष्म सिंचाई योजना काजा शामिल है। उन्होंने इसके अलावा 131.21 करोड़ रुपए की परियोजनाओं की आधारशिला भी रखी।

काजा में 34.57 करोड़ रुपए लागत से बनेगा आइस हॉकी रिंक

इसमें काजा में 34.57 करोड़ रुपए लागत के आइस हॉकी रिंक, काजा में 12.18 करोड़ रुपए लागत के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के अतिरिक्त भवन, शिल्ला में शिल्ला नाला के ऊपर 2.60 करोड़ रुपए लागत के 60 मीटर लम्बे स्टील ट्रस पुल, काजा में 8.69 करोड़ रुपए लागत के हाई एल्टीटयूड प्रशिक्षण केंद्र, मुद में पिन नदी के ऊपर टेलिंग और मुद के बीच 3.23 करोड़ रुपए की लागत के 75 मीटर लम्बे वाहन योग्य स्टील ट्रस पुल और ताबो में 2.28 करोड़ रुपए की लागत के परिधि गृह का शिलान्यास किया।

21.17 करोड़ से होगा काजा-कोमिक सड़क का स्तरोन्यन

उन्होंने 1.54 करोड़ रुपए की लागत के कृषि विज्ञान केंद्र ताबो के कार्यालय भवन, 21.17 करोड़ रुपए की लागत से काजा-कोमिक सड़क का स्तरोन्यन और 37.44 करोड़ रुपए की लागत से स्पीति घाटी में मुद भावा सड़क परियोजना शामिल हैं। उन्होंने ग्राम पंचायत ताबो में खागस नाला से लारी गावं तक 1.47 करोड़ रुपए लागत की बहाव सिंचाई योजना, ग्राम पंचायत कुंगरी में 1.97 करोड़ रुपए की लागत की तांगटी योगमा उठाऊ सिंचाई योजना, ग्राम पंचायत डेमुल में सीवी शिगो तक 57 लाख रुपए की उठाऊ जलापूर्ति योजना और काजा में 4.50 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित होने वाले मॉडल करियर सैंटर की भी आधारशिला रखी।

जनजातीय लोगों के नौतोड़ अधिकार पर होगा विचार

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार जनजातीय लोगों के नौतोड़ अधिकार से संबंधित मामले पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करेगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की तरफ से अटल सुरंग रोहतांग का लोकार्पण करने से लाहौल-स्पीति जिले की आर्थिकी में बढ़ौतरी होगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने शिमला से वर्चुअल माध्यम से प्रदेश के 42 विधानसभा क्षेत्रों के लिए 4 हजार करोड़ रुपए की लागत की विभिन्न परियोजनाओं के शिलान्यास व लोकार्पण किए हैं।

मारकंडा ने किया कॉफी टेबल बुक का विमोचन

जनजातीय विकास मंत्री डॉ. रामलाल मारकंडा ने काजा मेें मुख्यमंत्री की ओर से कॉफी टेबल बुक स्पीतियन पीपल, कल्चर एंड विस्टा का विमोचन किया। उन्होंने जनजातीय क्षेत्र के बजट में बढ़ौतरी करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र काजा को नागरिक अस्पताल में स्तरोन्नत करने और काजा में फायर सब-स्टेशन खोलने के लिए भी आभार जताया।

भत्ते में बढ़ौतरी से कर्मचारियों को होगा लाभ : अश्विनी

हिमाचल प्रदेश अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष अश्विनी ठाकुर ने जनजातीय और शीतकालीन भत्ते में 200 रुपए की बढ़ौतरी करने के लिए आभार जताया। उन्होंने कहा कि इससे जनजातीय क्षेत्रों में सेवाएं देने वाले कर्मचारियों का मनोबल बढ़ेगा।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Recommended News

static