लाहौल के उदयपुर में फंसे 175 पर्यटक, हैलीकॉप्टर के माध्यम से किया जाएगा रैस्क्यू

7/30/2021 12:14:44 AM

मनाली (सोनू): भारी बारिश और बाढ़ के चलते लाहौल घाटी के उदयपुर क्षेत्र में करीब 175 पर्यटक अभी भी फंसे हैं। पर्यटकों को हैलीकॉप्टर के माध्यम से भी रैस्क्यू करने के प्रयास किए जाएंगे। लाहौल-स्पीति के डीसी नीरज कुमार ने बताया कि भारी बारिश और बाढ़ के चलते सड़कों और पुलों के क्षतिग्रस्त हो जाने के चलते कुछ पर्यटक उदयपुर के क्षेत्र में फंस गए थे। जिन्हें बाहर निकालने के लिए हैलीकॉप्टर की सेवाएं लिए जाने को लेकर राज्य सरकार से आग्रह किया गया है। कुल 175 लोगों में 16 बच्चे, 60 महिलाएं व 99 पुरुष शामिल हैं। वहीं बादल फटने के दूसरे दिन भी रैस्क्यू अभियान जारी रहा। वहीं मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर शुक्रवार सुबह हैलीकॉप्टर के माध्यम से प्रभावित क्षेत्र का दौरा करेंगे और प्रभावित हुए लोगों के साथ भेंट करेंगे।

तीन दिन से त्रिलोकीनाथ में फंसा है होशियारपुर का परिवार

पंजाब के होशियारपुर से त्रिलोकीनाथ भगवान के दर्शन करने लाहौल आया सूद परिवार भी त्रिलोकीनाथ में फंस गया है। होशियारपुर निवासी संजीव सूद ने बताया कि वह अपनी पत्नी शिक्षा सूद, बेटी रुपाली सूद, सास बीना सूद व बेटे कुणाल सूद के साथ 27 जुलाई को दर्शन करने त्रिलोकीनाथ आए थे लेकिन सड़कें खराब होने से यहां फंस गए हैं। भगवान त्रिलोकीनाथ के पुजारी बीर बहादुर सिंह ठाकुर ने बताया कि त्रिलोकीनाथ मन्दिर सराय में 80 से अधिक लोग शरण लिए हुए हैं। उन्होंने बताया कि मंदिर कमेटी शरण लिए सभी श्रद्धालुओं की यथासम्भव मदद कर रही है। उन्होंने बताया कि अधिकतर श्रद्धालु कुल्लू, मंडी व कांगड़ा के हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vijay

Recommended News

static