अग्निकांड की भेंट चढ़े दुकान, घर व गऊशाला, लाखों का नुक्सान

ऊना: हिमाचल प्रदेश के जिला ऊना में शनिवार व रविवार को हुईं आग की 3 अलग-अलग घटनाओं में एक कपड़े की दुकान, घर व गऊशाला जल कर राख हो गए। आग की इन घटनाओं में लाखों के नुक्सान की बात कही जा रही है। जानकारी के अनुसार पहले मामले में भैरा में शनिवार रात्रि कपड़े की दुकान में आग लग गई। तकरीबन 1 बजे लगी इस आग के बारे में चिंतपूर्णी जा रहे श्रद्धालुओं ने जल रही दुकान के साथ सुनार की दुकान के बोर्ड पर अंकित मोबाइल नम्बर पर सूचना दी। ढिल्लो क्लाथ हाऊस के मालिक गुरनाम सिंह ने बताया कि जब वह मौके पर पहुंचे तो दुकान धू-धू कर जल रही थी। सूचना के बाद मौके पर पहुंची फायर की टीम ने आग पर काबू पाया लेकिन तब तक सबकुछ राख हो चुका था। आग की इस घटना में तकरीबन 20 लाख रुपए का नुक्सान आंका गया है। आग शॉर्ट सर्किट से लगी बताई जा रही है।

पंजावर में मकान राख
दूसरे मामले में हरोली उपमंडल के तहत आते पंजावर गांव में रविवार को जागीर सिंह पुत्र सुखदेव सिंह के घर में घर में अचानक आग लग गई। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची दमकल विभाग की टीम व पंडोगा पुलिस चौकी के कर्मचारियों ने स्थानीय लोगों की मदद से आग पर काबू पाया। अचानक लगी आग में घर का अधिकांश सामान नकदी सहित जलकर राख हो गया। पंडोगा से पहुंची जांच टीम द्वारा आग का कारण शॉर्ट सर्किट माना जा रहा है। आग की इस घटना में लगभग 1 लाख 15 हजार का नुक्सान होने का अनुमान है। पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

सुंधारी में आग की भेंट चढ़ी पशुशाला 
तीसरे मामले में अम्ब उपमंडल के तहत ग्राम पंचायत त्याई के अधीन पड़ते गांव सुंधारी में एक पशुशाला जलने से हजारों रुपए का नुक्सान हुआ है। जानकारी के अनुसार रविवार दोपहर करीब 2 बजे मुकेश कुमार पुत्र गुरदयाल सिंह की पशुशाला में अचानक आग लग गई। उस वक्त घर के पारिवारिक सदस्य बाहर गए हुए थे। पशुशाला में रखी गई करीब 10 क्विंटल तूड़ी, मशीन व मोटर इत्यादि जल गई हैं। पंचायत प्रतिनिधियों ने प्रशासन से प्रभावित परिवार को उचित सहायता देने की मांग की है। 



यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!