क्रिसमस व न्यू ईयर के लिए होटलों में पर्यटकों को मिलेगी 50 प्रतिशत तक छूट

punjabkesari.in Saturday, Dec 04, 2021 - 10:55 AM (IST)

धर्मशाला (जिनेश) : क्रिसमस व न्यू इयर के दौरान घूमने का कार्यक्रम बना रहे हैं तो यह आपके लिए राहत भरी खबर है। पर्यटन नगरी मैक्लोडगंज के होटलों में क्रिसमस व नव वर्ष की संध्या का जश्न मनाने आ रहे पर्यटकों को 40 से 50 प्रतिशत की छूट दी जा रही है। हालांकि आगामी वीकेंड के लिए भी धर्मशाला, मैक्लोडगंज में पर्यटकों के लिए 50 प्रतिशत की छूट होटल संचालकों द्वारा दी जा रही है लेकिन उसके बावजूद भी कम ही पर्यटक धर्मशाला, मैक्लोडगंज की ओर रुख कर रहे है। मैक्लोडगंज के होटिलियर्स की माने तो इस सीजन में अधिकतर पर्यटक शिमला व मनाली का रुख करते है। यहां के होटिलीयर्स का कहना है इस सीजन में भी 50 प्रतिशत की छूट पर्यटकों को दी जा रही है तथा आगामी वीकेंड के लिए 25 प्रतिशत तक होटलस की बुकिंग का अनुमान लगाया जा रहा है। 

क्रिसमस व न्यू ईयर के लिए 50 प्रतिशत हुई बुकिंग

क्रिसमस व न्यू इयर के लिए मैक्लोडगंज-धर्मशाला के होटलों में एडवांस बुकिंग शुरू हो गई है। होटिलियरस की मानें तो 25 से 31 दिसंबर तक 50 प्रतिशत बुकिंग होने की संभावनाएं है तथा कई पर्यटकों ने क्रिसमस व न्यू इयर के लिए पहले से ही बुकिंग करवा रखी है। होटिलियर्स का कहना है कि हालांकि कोरोना काल के दौरान मात्र पंजाब के ही अधिकतर पर्यटक यहां का रुख कर रहे थे लेकिन अब पूरे देश से पर्यटक पर्यटन नगरी मैक्लोडगंज का रुख कर रहे हैं।

मैक्लोडगंज-धर्मशाला में हर महीने बढ़ रही है पर्यटकों की संख्या

कोरोना के चलते पर्यटन व्यवसाय के पहिए थम गए थे तथा जिसके चलते पर्यटन इंडस्ट्री को काफी नुकसान झेलना पड़ा था लेकिन हर महीने पर्यटकों की संख्या मैक्लोडगंज-धर्मशाला में बढ़ रहीं है। होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष अश्वनी बांबा कि मानें तो हर महीने मैक्लोडगंज-धर्मशाला में पर्यटकों की संख्या बढ़ रहीं है। उनका कहना है कि सितंबर महीने में यहां पर्यटकों कि संख्या 12 से 15 प्रतिशत थी जोकि अक्तूबर महीने में 15 से 20 व नवंबर महीने में 20 से 25 प्रतिशत तक आंकि गई है। उन्होंने कहा कि क्रिसमस व न्यू इयर के लिए यहां के होटेलों में पर्यटकों को 50 प्रतिशत तक की छूट दी जा रहीं है। क्रिसमस व न्यू इयर के लिए एडवांस बुकिंग भी हो रहीं है तथा क्रिसमस व न्यू इयर तक यहां 50 प्रतिशत बुकिंग होने का अनुमान हैं। 
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

prashant sharma

Related News

Recommended News