कड़की में फंस कर घायल मादा तेंदुआ गांव में घुसी

punjabkesari.in Monday, Jan 23, 2023 - 07:11 PM (IST)

शाहतलाई (हिमल): कड़की में फंसने से घायल हुई एक मादा तेंदुआ दहाड़ती हुई ग्राम पंचायत दसलेहड़ा के गांव खमेड़ा खुर्द में जा घुसी, जिसे पकड़ कर उसका उपचार किया गया। जानकारी के अनुसार गांव खमेड़ा खुर्द का एक व्यक्ति अपने निजी काम से कहीं जा रहा था कि झाडिय़ों से निकल कर अचानक मादा तेंदुआ दहाड़ती हुई उस पर झपट पड़ी। उसने इसकी जानकारी पूर्व उपप्रधान मदन लाल को दी। उपप्रधान ने इस बारे बच्छरेटू वनरक्षक राजीव कुमार को बताया तथा वह भी मौके पर पहुंच गए।

तेंदुए के दहाडऩे की आवाज सुनते ही दूरदराज के लोग भी मादा तेंदुए को देखने के लिए इक_े हो गए। मादा तेंदुआ पांव में कड़की फंसी होने के कारण इधर-उधर भाग रही थी। ग्रामीणों की भीड़ को देखते हुए वह पहले घासनियों में छिप गई, लेकिन ग्रामीण जब वहां पर शोर मचाने लगे तो मादा तेंदुआ गहरी ढांक में एक पेड़ पर चढ़ गई। वन खंड अधिकारी कोलका ज्ञान सिंह, वन खंड अधिकारी जगमोहन, रविंद्र कुमार, राजेश कुमार व राजीव कुमार ने कड़ी मकसद के साथ करीब अढ़ाई घंटे पश्चात उसको बेहोश किया तथा ग्रामीणों की मदद से घायल तेंदुए को रस्सों के साथ पेड़ से नीचे उतारा। लोगों ने आशंका जताते हुए कहा कि अवैध शिकार करने वाले शिकारियों ने यह कड़की लगाई थी, जिसमें यह मादा तेंदुआ फंस गई।

  उधर, इस बारे में वन विभाग कलोल के वन परिक्षेत्र अधिकारी नंद लाल ने पुष्टि करते हुए कहा कि घायल अवस्था में मादा तेंदुए को पकड़ा है। जिस कड़की में मादा तेंदुआ फंसी थी, उसे कब्जे में ले लिया है। मादा तेंदुआ की उम्र करीब साढ़े 4 वर्ष के करीब है। अब इस मादा तेंदुए को उपचार के पश्चात टूटीकंडी शिमला भेज दिया जाएगा।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Kuldeep

Related News

Recommended News