देश के पहले मतदाता ने 103 की उम्र में हिमाचल पंचायत चुनावों में मतदान किया, 70 फीसदी से अधिक मतदान

1/17/2021 8:36:52 PM

शिमला, 17 जनवरी (भाषा) आंखों की रोशनी कमजोर होने और घुटनों में दर्द के बावजूद भारत के पहले मतदाता श्याम सरण नेगी हिमाचल प्रदेश के किन्नौर में अपने मतदान केंद्र पर राज्य पंचायत चुनाव के लिए मतदान करने पहुंचे।
हिमाचल प्रदेश में तीन चरणों में होने वाले पंचायती राज संस्थान के चुनावों के पहले दौर में रविवार को 70 प्रतिशत से अधिक मतदाताओं ने मतदान किया।

राज्य की 1,227 पंचायतों में रविवार को मतदान हुआ, बाकी दो चरणों के तहत 19 और 21 जनवरी को मतदान होगा।


नेगी (103) ने कालपा मतदान केंद्र पर मतदान किया जहां जिला प्रशासन ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया।

उपायुक्त हेमराज बैरवा ने किन्नौरी टोपी पहनाकर और शॉल ओढ़ाकर नेगी का स्वागत किया। उपायुक्त ने कहा कि युवा मतदाताओं को नेगी से प्रेरणा लेनी चाहिए जो खराब सेहत और इतनी अधिक उम्र के बावजूद वोट डालने पहुंचे।

नेगी ने जनता के लिए अपने संदेश में कहा कि मतदाताओं को ईमानदार और सक्षम उम्मीदवारों के चुनाव के लिए चुनाव प्रक्रिया में भाग लेना चाहिए।

नेगी ने कहा कि उन्होंने कभी मतदान नहीं छोड़ा चाहे पंचायत चुनाव हों या विधानसभा अथवा लोकसभा चुनाव रहे हों।

माना जाता है कि आजादी के बाद 1952 में देश के पहले आम चुनाव में वोट डालने वाले नेगी पहले मतदाता है। उनका जन्म एक जुलाई, 1917 को हुआ था।

इस बीच राज्य के निर्वाचन अधिकारी संजीव महाजन ने कहा कि पहले चरण में 70 प्रतिशत से अधिक मतदाताओं ने मतदान किया।

जिले के एक अधिकारी ने बताया कि लाहौल-स्पीति आदिवासी बहुल जिले के काज़ा प्रखंड की दो पंचायतों के 63 प्रतिशत से अधिक मतदाताओं ने शून्य से नीचे सात डिग्री सेल्सियस तापमान में भी मतदान किया।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और उनके परिवार के सदस्यों ने मंडी जिले की मुरहग पंचायत में कुरानी में मतदान किया।


यह आर्टिकल पंजाब केसरी टीम द्वारा संपादित नहीं है, इसे एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड किया गया है।

Edited By

PTI News Agency

Recommended News