जाड़ला कोइडी हत्याकांड : प्रारंभिक रिपोर्ट में खुलासा, युवती पर रॉड से किए गए थे वार

4/8/2021 8:49:17 PM

ऊना (सुरेन्द्र): गगरेट क्षेत्र के जाड़ला कोइडी में युवती के हत्यारोपी विकास दूबे उर्फ विद्यागिरी को पुलिस ने उसे आज अम्ब की अदालत में पेश किया जहां उसे रिमांड पर भेजा गया है। अब पुलिस रिमांड के दौरान उससे पूछताछ करेगी कि आखिर एम.कॉम की छात्रा की हत्या के पीछे उसका उद्देश्य क्या था? आखिर हत्या क्यों की गई और इसके पीछे असल वजह क्या रही? पुलिस रिमांड के दौरान सीन रिक्रेएट भी करेगी ताकि तमाम साक्ष्यों को एकत्रित कर चालान बनाया जा सके। पुलिस इस मामले में तमाम साक्ष्यों के साथ अदालत में शीघ्र चालान पेश करेगी ताकि आरोपी को सजा के अंजाम तक पहुंचाया जा सके।

मृतका को सैंकड़ों ग्रामीणों ने दी अश्रुपूर्ण विदाई

उधर, मृतका नेहा ठाकुर का अंतिम संस्कार उनके गांव जाड़ला कोइडी कर दिया गया। पूरे गांव ने इस बेटी को अश्रुपूर्ण विदाई दी। ज्यों ही टांडा मेडिकल काॅलेज में पोस्टमार्टम के बाद लाश गांव पहुंची तो पूरा गांव फूट-फूट कर रोया। एसएचओ दर्शन सिंह पुलिस दल-बल के साथ इस अंतिम संस्कार के लिए मौके पर पहुंचे थे ताकि किसी प्रकार की कोई अप्रिय घटना न हो सके। गगरेट के विधायक राजेश ठाकुर तथा पूर्व विधायक राकेश कालिया सहित आसपास के गांव के कई लोग भी अंतिम विदाई के मौके पर पहुंचे थे।

सिर व गर्दन पर किए गए थे रॉड से वार

हालांकि पोस्टमार्टम की अंतिम रिपोर्ट पुलिस के पास नहीं पहुंची है लेकिन प्रारंभिक रिपोर्ट में उसके सिर व गर्दन में रॉड से वार के गहरे घाव का पता लगा है। रॉड के ताव न सहते हए 22 वर्षीय नेहा ठाकुर ने शनिवार 3 अप्रैल को दम तोड़ दिया था, जिसके बाद विद्यागिरी बने विकास दूबे ने शव को बोरी में बांधकर उसे आश्रम के पीछे दफना दिया था। इस दौरान आश्रम के मुख्य महंत हरिद्वार में कुम्भ स्नान के लिए गए हुए थे। मंगलवार रात्रि उन्हें जब सूचना मिली तब वह वहां से वापस लौटे थे।

हत्याकांड की जांच में जुटी पुलिस

पुलिस अब उस ऐंगल का पता लगाने में जुटी है कि आखिर यह हत्याकांड क्यों हुआ? पूरे घटनाक्रम की सिलसिलेवार जानकारी ली जाएगी। अभी विकास दूबे कई राज खोलेगा। इसी के साथ आरोपी के मोबाइल फोन की कॉल डिटेल भी खंगाली जाएगी। हालांकि पोस्टमार्टम की प्रारंभिक में किसी प्रकार के दुराचार की पुष्टि नहीं हुई है। पुलिस यह पता लगाने में जुटी हुई है कि हत्या के पीछे मुख्य वजह क्या थी? कॉल डिटेल रिकार्ड के साथ-साथ अन्य साक्ष्य भी जुटाए जाएंगे। रिमांड के दौरान सारी चीजें सामने आएंगी।

युवती को एकतरफा संदेश भेजता था आरोपी

उधर, एसपी अर्जित सेन ठाकुर ने माना कि पोस्टमार्टम की प्रारंभिक रिपोर्ट में दुराचार की बात सामने नहीं आई है। आरोपी को 3 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है। गहन पूछताछ होगी और हत्या का उद्देश्य पता किया जाएगा। आरोपी लगातार युवती को एकतरफा संदेश भेजता था। अभी तक यही बात सामने आई है। तमाम तथ्यों का पता लगाया जा रहा है।


Content Writer

Vijay

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static