तबादले नीति के विरोध में उतरा कुल्लू पटवारी संघ

9/19/2020 5:03:19 PM

कुल्लू (दिलीप) : संयुक्त पटवारी एवं कानूकांगो महासंघ जिला कुल्लू ने उपायुक्त कुल्लू के माध्यम से  मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा गया। राजस्व विभाग में कार्य कर रहे पटवारी कानगो की समस्या से संबंधित मांग पत्र महासंघ की प्रांतीय कार्यकारिणी द्वारा अनेक बार प्रस्तुत किया जा चुका है। मगर आज तक इन समस्याओं का समाधान के लिए किसी भी स्तर पर कोई कदम नहीं उठाया गया। वर्तमान में आम जनता के अनेकों कार्य ऑनलाइन करने का प्रयास किया जा रहा है। मगर उनके लिए पर्याप्त संसाधन नहीं है। इसके विपरीत पटवारी कानगो के तबादलों के लिए एक तरफा तबादला नीति बना दी गई है। जो न्याय संगत नहीं है। 

महासंघ आग्रह करता है कि हाल ही में बनाई गई तबादला नीति को रद्द किया जाए और पटवारी कांनगो की समस्या के समाधान के लिए चर्चा हेतु समय निश्चित किया जाए। यदि समस्या का समाधान करने का प्रयास शीघ्र नहीं किया गया तो महासंघ सरकार से नाराजगी प्राप्त करने के लिए अपने निजी संसाधनों का प्रयोग बंद करके व अन्य को अतिरिक्त कार्यों का बहिष्कार करके संघर्ष करने का को बाध्य हो जाएगा।
वही कानूनगो महासंघ के प्रधान युवराज ने बताया कि हिमाचल प्रदेश में पटवारी कांनूनगो को लक्ष्य बनाकर तबादलों की नीति बनाई जा रही है या तबादले हुए हैं। इसके विरोध में पूरे हिमाचल में जिला व सभी पटवारी कानूनगो इसका विरोध करते हुए मुख्यमंत्री को उपायुक्त के माध्यम से ज्ञापन सौंपा जा रहा है। 

उन्होंने कहा कि मंडी, उन्ना व शिमला में मांग पत्र सौंपा गया है। और इसी कड़ी में जिला कुल्लू में सभी पटवारी अपनी समस्याओं को लेकर मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजेंगे। उन्होंने कहा कि आज जो समस्या राजस्व विभाग में आ रही है। वह यह है कि पटवार खाने में इंटरनेट की सुविधा नहीं है यदि जनता के कार्य समय पर निपटाने हैं। उन्होंने कहा कि सबसे पहले पटवार खाने और कानूनगो को इस लायक बनाना होगा और वहां पर संसाधन उपलब्ध करवाने होंगे। जोकि इलेक्ट्रॉनिक्स समान हो जब तक हमारे पास सुविधाएं नहीं होगी और ऐसे में जनता के कार्य को निपटाने में समय पर नहीं होंगे और अनावश्यक विलंब होगा उन्होंने कहा कि सरकार को जनता के कार्य को निपटाने के लिए पटवार खाने को इंटरनेट के माध्यम से जोड़ना होगा। 

उन्होंने कहा कि हाल ही में जो तबादले हुए उन्होंने कहा कि जिला कुल्लू में ऐसे भीड़ वाले पटवार खाने खाली हो गए हैं। उन्होंने कहा कि जहां पर के एडिशनल चार्ज दिए गए हैं जो कि मानसिक दबाव और कार्य निपटाने में देरी का कारण बनता है।  उन्होंने कहा कि पटवारियों पर दिन प्रतिदिन कार्य का दबाव बढ़ता जा रहा है उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में पटवारियों को लक्ष्य बनाकर तबादले हुए हैं यह जो कि एक चिंताजनक है उन्होंने कहा कि आप तबादले कीजिए लेकिन उसके लिए विशेष पॉलिसिया भी अपनाएं उन्होंने कहा कि यहां पर पटवारी और कांनूनगो को लक्ष्य बनाकर तबादले किए गए हैं जो कि एक बेहद चिंताजनक है।
 


prashant sharma

Related News