पार्वती घाटी में बादल फटा, खड्ड से सटे मकान खाली करवाए

8/2/2021 9:03:49 PM

कुल्लू  (ब्यूरो): पार्वती घाटी के रास्कट नाले में सोमवार को शाम के समय बादल फटने से बाढ़ आ गई। इस घटना के दौरान खड्ड से सटे मकानों में रहने वाले सभी लोगों को स्थानीय निवासियों व पंचायत प्रतिनिधियों ने बाहर निकाला। शाम करीब 4 बजे के आसपास नाले का जलस्तर अचानक बढ़ गया और उफनते नाले का पानी कई चट्टानों को बहाकर ले गया। इससे उठी धमाकों की आवाज से लोग सहम गए। उफान पर आए नाले का पानी सड़क पर बहने लगा। इससे बरशैणी मार्ग पर एक घंटे से अधिक समय तक यातायात भी ठप्प रहा। बाद में बारिश का क्रम थमा तो नाले का जलस्तर कम हुआ। उसके उपरांत ही दोनों तरफ  फंसे वाहन आगे जा सके। इस वजह से लोगों में दहशत का माहौल रहा। लोग अपने घरों में डरते हुए रहने को विवश हैं। ब्रह्मगंगा में आई बाढ़ में 4 लोगों के लापता होने के बाद लोग डरे हुए हैं। बरसात के मद्देनजर बादल फटने और बाढ़ आने की घटनाएं बढ़ रही हैं।

रास्कट में सड़क बंद होने के कारण फंसे संजीव शर्मा, नितिन, सुनील कुमार, सोनू ठाकुर और कुलदीप ने बताया कि एक घंटे से अधिक समय तक हमें सड़क बंद होने के कारण रुकना पड़ा। बारिश अगर लगातार रहती तो उन्हें पूरी रात अपनी गाड़ी में ही गुजारनी पड़ सकती थी। सौभाग्य से बारिश रुकी और नाले का जलस्तर कम हुआ। इसके बाद गाडिय़ों को आगे निकालने का मौका मिला। मणिकर्ण पंचायत के पूर्व प्रधान एवं वर्तमान भाजपा कुल्लू मंडल अध्यक्ष ठाकुर चंद ने कहा कि भारी बारिश के कारण रास्कट नाले का जलस्तर बढ़ा था और सड़क भी बंद हो गई थी। उन्होंने कहा कि रास्कट नाले का जलस्तर वैसे तो बरसात में भी सामान्य रहता है लेकिन आज अचानक नाला उफान पर आ गया। उन्होंने कहा कि घटना में कोई जानी नुक्सान नहीं हुआ है। वहीं, जिले में अन्य नदी-नालों का भी जलस्तर बढ़ा। दोपहर बाद भारी बारिश के कारण ऐसे हालात बने।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Kuldeep

Recommended News

static