सरकार ने बढ़ाई राज्यपाल की सुरक्षा, अधिक पेशेवर पुलिस कमांडो होंगे तैनात

2/27/2021 9:29:35 PM

शिमला (कुलदीप): हिमाचल प्रदेश विधानसभा में घटित घटनाक्रम के बाद राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय की सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ा दिया गया है। इसके लिए अब अधिक संख्या में पेशेवर पुलिस कमांडो की तैनाती होगी, साथ ही पीएसओ व्यवस्था की जगह क्लोज प्रोटैक्शन टीम (सीपीटी) राज्यपाल की सुरक्षा के लिए तैनाती होगी। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के उच्च अधिकारियों को कड़े आदेश के बाद यह निर्णय लिया गया है ताकि राज्यपाल को भविष्य में किसी तरह की असुविधा का सामना न करना पड़े। इन आदेशों के बाद प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) संजय कुंडू वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की टीम के साथ राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय से मिलने राजभवन पहुंचे और सुरक्षा स्थिति की समीक्षा की। डीजीपी ने राज्यपाल के साथ विधानसभा परिसर में हुई असुविधा पर खेद जताया तथा कहा कि यह अप्रत्याशित और दुर्भाग्यपूर्ण था।

राज्य के पहले नागरिक की सुरक्षा काे विशेष ध्यान देगी पुलिस

उन्होंने कहा कि राज्य के पहले नागरिक की सुरक्षा का प्रदेश पुलिस विशेष ध्यान देगी। इसी तरह भविष्य में होने वाले कार्यक्रमों में उच्च स्तरीय सुरक्षा व्यवस्था प्रदान की जाएगी। इसके तहत उन्हें प्रोफैशनल एडवाइज दी जाएगी और रोड क्लीयरिंग सिस्टम तैयार किया जाएगा। वर्तमान में राज्यपाल के कार्यक्रमों के दौरान केवल एक सुरक्षा अधिकारी तैनात रहता है, लेकिन अब व्यवस्था को बदला जाएगा, जिसमें सीपीटी की तैनाती होगी। इतना ही नहीं किसी भी प्रतिकूल हालात में राज्यपाल की सुरक्षा में तैनात अधिकारी बैकअप के लिए कॉल किया जा सकता है यानी राज्यपाल की सुरक्षा में भविष्य में कोई चूक न हो, इसके लिए मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार प्रभावी पग उठाए जाएंगे। इसके अलावा पुलिस प्रशासन राजभवन में भी डीएसपी सुरक्षा सुविधा भी उपलब्ध करवाएगा।


Content Writer

Vijay

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static