पांच दिन बाद टोंस नदी में मिला शिलाई के व्यापारी का शव

punjabkesari.in Thursday, Jul 16, 2020 - 12:43 PM (IST)

सिरमौर (प्रेम) : जिला सिरमौर, हिमाचल प्रदेश पांवटा साहिब के शिलाई क्षेत्र का जाना माना चेहरा, महेंद्र नेगी 12 जुलाई को टोंस नदी में नहाते हुए गहरे पानी में चले गए थे। घटना के बाद से ही उनके शव के लिए सर्च अभियान चलाया गया था। वीरवार को टोंस नदी से ही उनका श्ज्ञव बरामद किया गया हे। उनका शत-विशत शव टोंस नदी पर बने कोटी-इछाड़ी डैम से हिमाचल वाली साइड मिला है। बताया जा रहा है कि सर्च अभियान दौरान लोगों ने कोटी डैम कर्मचारियों को सूचना दी हुई थी। जिस उपरांत आज सुबह ही डैम कर्मचारियों को एक शव पानी में तैरता मिला। जिसके बाद उन्होंने उस शव को किनारे लगाया व शिलाई पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस व कुछ स्थानीय लोगों ने शव की शिनाख्त की। 
PunjabKesari
बता दें कि शिलाई के प्रसिद्ध व्यापारी व भाजपा मंडल उपाध्यक्ष महेंद्र नेगी 12 जुलाई को नहाते हुए टोंस नदी में डूब गए थे। जिसके बाद गिरिपार सहित पूरे जिले में शोक की लहर दौड़ गई थी। महेंद्र नेगी सरल व मिलनसार स्वभाव के कारण सबके प्यारे थे। महेंद्र नेगी वहां नजदीक में एक शादी में गए हुए थे, इसी बीच दोपहर को अपने दोस्तों के संग टोंस नदी में नहाने चले गए और नहाते हुए अचानक पैर फिसल गया और देखते ही देखते वह नदी में समा गए। दोस्तों ने इधर-उधर नदी में काफी तलाश की, लेकिन कहीं पता नहीं चल पाया था। डीएसपी पांवटा वीर बहादुर ने बताया कि सियासु (फराड़) नामक जगह पर टोंस नदी में नहाने उतरे महेंद्र नेगी अचानक पैर फिसलने से नदी में समा गए थे। पांच दिन चले तलाशी अभियान आज उनकी बॉडी कोटी-इछाड़ी डैम से बरामद हुई हैं।
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Edited By

prashant sharma

Related News

Recommended News