परीक्षा शुल्क न देने के चलते शिक्षा बोर्ड ने उठाया ये कदम, टैट परीक्षा के लिए बनाए 132 केंद्र

11/24/2020 10:10:58 AM

धर्मशाला (नवीन): शुल्क का रिकार्ड न देने के चलते हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड ने लगभग 2509 टैट आवेदन रद्द कर दिए हैं। इसके अलावा स्कूल शिक्षा बोर्ड ने टैट के लिए 132 परीक्षा केंद्र बनाए हैं। कोविड-19 के चलते परीक्षा केंद्रों की संख्या में बढ़ौतरी की गई है। बोर्ड के अनुसार विभिन्न सुरक्षा उपायों को अपनाया जाएगा। जानकारी के मुताबिक हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड द्वारा जे.बी.टी., टी.जी.टी. (आर्ट्स/ मैडीकल/नॉन मैडीकल/) एल.टी., शास्त्री, पंजाबी व उर्दू विषयों की अध्यापक पात्रता परीक्षा हेतु 19 अक्तूबर से 10 नवम्बर तक ऑनलाइन आवेदन पत्र मंगवाए थे। उक्त 8 विषयों की टैट के लिए कुल 44317 आवेदन पत्र प्राप्त हुए हैं, जिनमें से 41808 आवेदन पत्र परीक्षा शुल्क सहित प्राप्त हुए हैं, परंतु 2509 आवेदन पत्र बिना परीक्षा शुल्क के पाए गए।

बोर्ड की ओर से कहा गया था कि उक्त अभ्यार्थियों में से यदि किसी अभ्यार्थी ने टैट नवम्बर के लिए पैमेंट गेटवे पर डेबिट कार्ड/क्रेडिट कार्ड, नेट बेंकिंग के अतिरिक्त किसी अन्य माध्यम से निर्धारित तिथियों के अंतर्गत शुल्क जमा किया है व उनका नाम बोर्ड द्वारा जारी रिजेक्ट केंडीडेट लिस्ट में हैं तो, ऐसे अभ्यार्थी अपने शुल्क का पूर्ण रिकार्ड ई-मेल आई.डी. के माध्यम से बोर्ड कार्यालय को 21 नवम्बर तक प्रेषित कर दें। 21 नवम्बर तक एक भी अभ्यार्थी की शुल्क का पूर्ण रिकार्ड संबंधी कोई जानकारी बोर्ड को प्राप्त नहीं हुई है जिस कारण बोर्ड ने 2509 आवेदन पत्रों को रद्द कर दिया गया है।


Jinesh Kumar

Recommended News